VIDEO मे देखिये हुस्न पहाड़ों का, बद्रीनाथ, केदारनाथ, नीति वैली ने ओढ़ी बर्फ की चादर…

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

चमोली/देहरादून. उत्तराखंड के पहाड़ों में भारी हिमपात होने से जहां पहाड़ों में लोग घरों में कैद होने पर मजबूर हो गए हैं वहीं, निचले इलाकों में भी पारा गिर गया है और कड़ाके की ठंड महसूस की जा रही है. बीते शुक्रवार को पहाड़ों में जमकर बर्फबारी हुई. नीति वैली के साथ ही, बद्रीनाथ और केदारनाथ धाम और इनके ट्रैक्स पर बर्फ​ गिरने की खबरें आईं. बताया जा रहा है कि केदारनाथ में तो इतनी बर्फबारी हो गई है कि वहां चल रहे विकास और निर्माण कार्य रोकने पड़ गए हैं. इसी तरह बद्रीनाथ में भी मास्टर प्लान के तहत जो काम चल रहे थे, उन्हें फिलहाल बंद किया जा रहा है.

पिथौरागढ़ और चमोली ज़िलों के पहाड़ी इलाकों और पहाड़ों पर पिछले दो दिनों से ज़बरदस्त बर्फबारी हो रही है. नीति वैली में ​ऋषिगंगा नदी की धाराओं और झरनों में कैसे पानी के जमने तक की स्थिति बन चुकी है. आपको नीति वैली के बम्पा गांव में हुई भारी बर्फबारी का वीडियो दिखाते हैं, जो शुक्रवार रात समाचार एजेंसी एएनआई ने जारी किया.

बद्रीनाथ के साथ ही, हेमकुंड साहिब और फूलों की घाटी में भी बर्फबारी का दौर जारी है. खबरों की मानें तो केदारनाथ में तो 8 इंच तक बर्फ जम चुकी है, जबकि बद्रीनाथ में 5 इंच हिमपात हुआ है. मौसम विभाग के मुताबिक कम से कम 7 दिसंबर तक बर्फबारी इसी तरह जारी रहेगी. एएनआई का जारी किया हुआ बद्रीनाथ का एक और वीडियो देखिए, जिसमें बद्री विशाल धाम बर्फ की चादर ओढ़े नज़र आ रहा है.

मैदानी इलाकों में फिलहाल बारिश हो रही है. खबरों के मुताबिक नैनीताल में शुक्रवार को सारा दिन और रात में भी बारिश होती रही. यहां पहुंच रहे पर्यटकों में बर्फ गिरने का इंतज़ार देखा गया. वहीं, बागेश्वर में पिंडर वैली के जातोली और फुर्कियाल जैसे इलाकों में हल्का हिमपात हुआ. दारमा घाटी के अलावा माणा वैली में भी बर्फ गिरने की खबरें रहीं. पूरे कुमाऊं अंचल में ज़्यादातर जगहों पर बादल छाए रहने से पाला और कोहरा भी देखा गया.