महिला वोटरों को रिझाने मे लगी भाजपा, ये बनाया प्लान…  

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

देहरादून: विधानसभा चुनाव-2022 से पहले सरकार महिला मतदाताओं को लुभाने में जुट गई है। इसी क्रम में महिला बाल विकास विभाग 06 दिसम्बर को देहरादून में बड़ा जलसा आयोजित करने जा रहा है। जिमसें 25 हजार महिलाओं की उपस्थिति का लक्ष्य रखा गया। महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि महिला विभाग ने बीते पांच साल में महिलाओं और बच्चों के कल्याण के लिए कई एतिहासिक कार्यक्रम संचालित किए हैं।

इसी तरह आंगनबाड़ी वर्कर का मानदेय बढ़ोतरी, सुपरवाईजर पद पर पदोन्नति और कोविड सेवाओं के लिए प्रोत्साहन राशि का तोहफा दिया गया। इसलिए कार्यक्रम के जरिए विभाग की ओर से मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया जाएगा। बन्नू स्कूल ग्राउंड में प्रस्तावित इस कार्यक्रम में आंगनबाड़ी वर्कर सहित 25 हजार महिलाओं की भागीदारी का लक्ष्य रखा गया है। यह कार्यक्रम मुख्य रूप से गढ़वाल मंडल स्तर का होगा, इसके बाद कुमांऊ में भी ऐसा ही कार्यक्रम रखा गया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर धामी करेंगे दो घोषणाएं

रेखा आर्य ने बताया कि इस आयोजन में सीएम महिलाओं से जुड़ी दो अहम घोषणाएं करेंगे। एक घोषणा गढ़वाल मंडल के लिए जबकि एक कुमांऊ मंडल के लिए होगी। रेखा ने कहा कि भाजपा सरकार ने महिला बाल कल्याण के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाएं शुरू की हैं। नंदा गौरा योजना, सैनेटरी पैड वितरण योजना, महालक्ष्मी किट, प्रत्येक जिले में वन स्टॉप सेंटर, सीएम वात्सल्य योजना इसमें प्रमुख रूप से शामिल हैं।

इसी तरह सरकार ने पहली बार सुपरवाईजर पद पर पदोन्नति के लिए मिनी आंगनबाड़ी वर्कर को भी आवेदन करने की अनुमति दी है। आंगनवाडी वर्कर को राखी का उपहार देने के साथ ही कोविड सेवा के लिए प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराई गई। जबकि आंगनबाड़ी कार्यकत्री कल्याण कोष भी लागू किया गया है। इसलिए इस आयोजन में इन घोषणाओं का जश्न मनाया जाएगा।

पहले पंचायत प्रतिनिधियों का भी हुआ सम्मेलन

चुनाव से पहले सरकार जमीनी स्तर पर काम करने वाले मतदाताओं पर पकड़ मजबूत करने का प्रयास कर रही है। महिला सम्मेलन से पूर्व सरकार पंचायत प्रतिनिधियों के लिए भी दोनों मंडलों में इसी तरह के सम्मेलन आयोजित हो चुके हैं। अब महिला वोटरों को रिजाने की तैयारी है।