हरीश रावत का प्रहार, इंजन बदलती रही डबल इंजन की सरकार

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

देहरादून: ‘प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड की जनता को निराश किया है। अपने दौरे में उन्होंने जुमले अधिक सुनाए , कुछ नया नहीं किया। डबल इंजन वाली सरकार बार-बार इंजन बदलती रही लेकिन जनता को कभी नहीं बताया गया कि इंजन क्यों बदले गए । मोदी ने भी अपने दौरों में कभी नहीं बताया कि ऐसा क्यों करना पड़ा।‘ यह बात  पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कैंपटी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में कही।

उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद पहले मुख्यमंत्री सत्र के बीच में क्यों बदला, इस बात को भाजपा के कोई भी नेता आज तक नहीं बता पाया।  हरीश रावत ने कहा कि पीएम ने ऐसी कई योजनाओं का शिलान्यास किया जो कांग्रेस के कार्यकाल की स्वीकृत थीं। जिस ऑल वेदर रोड की बात मोदी करते है,  मैं दावे के साथ कह रहा हूं कि इस नाम का कोई प्रोजेक्ट है ही नहीं, अगर है तो कागज दिखा दें, कागज में होंगे तो मै माफी मांगने को तैयार हूं।

उन्होंने कहा कि यह चार धाम यात्रा सुधार मार्ग योजना है जिसे इन्होंने ऑल वेदर रोड का नाम दिया है। कर्ण प्रयाग रेलवे लाइन का शिलान्यास राष्ट्रीय प्रोजेक्ट के नाम से सोनिया गांधी ने किया। इसका शिलापट गौचर में आज भी है। 2011 – 12 से लेकर 2014 तक के बजट में इसका प्राविधान था। हां, लेकिन इतना जरूर है कि अधिक काम भाजपा के कार्यकाल में हुआ है । जो काम हुआ उसके लिए हम इनकार नही करते लेकिन इस योजना की सोच कांग्रेस की थी।