AAP का आरोप : खनन प्रेमी है उत्तराखंड की सरकार, उजागर हो रहा है बार- बार, “आप” की मांग गंभीरता से होनी चाहिये खनन की जांच…

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

देहरादून : आज आप प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता करते हुए राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सरकार की देखरेख में प्रदेश में अवैध खनन बडी तेजी से किया जा रहा है। सरकार का अब कम कार्यकाल बचा हुआ है, इसलिए अब सरकार पूरी लूट खसूट पर उतर आई है। उन्होंने कहा कि चुनाव नजदीक आते ही वन मंत्री को अब अपनी छवि की याद आते हुए अवैध खनन नजर आने लगा है। आखिर साढे चार सालों तक उनको ये क्यों नजर नहीं आया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हो या बीजेपी दोनों की राजनीति हमेशा खनन के इर्द गिर्द ही घूमती रही है। जिस खनन को यहां का और बाहर का माफिया मिल कर चलाते हैं ,उसकी चर्चा अब वन मंत्री कर रहे हैं ,जब चुनाव का समय नजदीक आ गया है। अब जनता की अदालत में जाने का समय आ गया है। वन मंत्री जी को अब डर लग रहा है कि ,उनकी छवि खराब होने का ,लेकिन 5 सालों तक आपने उत्तराखंड को लूटने के सिवा कुछ नही किया है।

उन्होंने कहा कि देश के प्रतिष्ठित अखबारों ने भी इस अवैध खनन की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया है जिससे प्रदेश का साख खराब हुई है। उन्होंने कहा कि पीटीआई ने भी इस खबर को प्रकाशित किया है ,जिस पर कोई संशय हो ही नहीं सकता है। उन्होंने आगे कहा कि सरकार अब अपने कार्यकाल के खत्म होने पर जांच के आदेश दे रही है,लेकिन आखिर क्यों आज तक सरकार ने इस पर कोई जांच नहीं बिठाई,क्या सरकार ने अवैध खनन पर अपनी आंखें बदं की हुई थी। उन्होंने कहा कि अवैध खनन से कई पुल क्षति ग्रस्त हो गए,प्रदेश को राजस्व का जबरदस्त नुकसान हुआ। लेकिन अब वन मंत्री को छवि सुधारने की याद आ रही है। उन्होंने आगे कहा कि 5 साल तक ये लोग माफियाओं की चौखट पर सलाम ठोकते हैं क्योंकि माफिया ही सरकार को चला रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इससे पहले भी उत्तराखंड के कई नेताओं की सांठगांठ माफियाओं से रह चुकी है ,लेकिन फिर भी कोई कार्रवाई नहीं की जाती । प्रदेश की जनता को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से काफी उम्मीदें थी ,लेकिन सीएम धामी सबसे बढकर आगे निकले और कुछ दिनों पहले जो ट्रक छुडाने के लिए सीएम ऑफिस से उनकी भेजी चिट्ठी का खुलासा हुआ ,उससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि उनका खनन के प्रति कितना अधिक प्रेम है। और जब मुख्यमंत्री की फंसने की नौबत आती है ,तो वो किसी अन्य को बलि का बकरा बना देते हैं। उन्होंने कहा कि व्यवस्था बनाने वाले ,और खुद को इस व्यवस्था से आसानी से निकालने वाले भी यही लोग हैं ।

उन्होंने कहा कि वन मंत्री हरक सिंह रावत  ने अब खुद माना है कि, उनकी विधानसभा की दो नदियों में अवैध खनन हुआ है। जब सरकार का मंत्री ये मान लेता है कि कहीं गडबड हो रही है ,तो जनता को यह बताने में कोई दोराय नहीं कि यह गडबड कहां से की जा रही है। इसका मतलब यह सरकार सिर्फ भ्रष्टाचारी नहीं ,बल्कि माफियाओं की भी सरकार है। इस प्रदेश को माफियाओं द्वारा चलाया जा रहा है और आप पार्टी यह मांग करती है कि इस मामले की गंभीरता से जांच की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस सरकार की छवि अब नहीं बल्कि शुरु से ही खराब रही है। अब सरकार का कार्यकाल खत्म होने वाला है ,तो यह सरकार प्रदेश को कम समय में अधिक से अधिक लूटना चाहती है। लेकिन जनता ऐसी सरकार को अब कभी माफ नहीं करेगी और आने वाले चुनावों में जनता इनकी करतूतों का ऐसी सरकार को कडा जवाब देगी।

Recent Posts