खूबसूरती बनी जान की दुश्मन, पति ने ही ले ली पत्नी की जान, तारीफ करता था सारा जहान…पढ़िये पूरी खबर 

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

गोपालगंज/ बिहार: आमतौर पर महिला खुद को सुंदर दिखने के लिए तमाम उपाय करती हैं, लेकिन यही सुंदरता किसी महिला के लिए काल बन जाए तो इसे आप क्या कहेंगे। ऐसा ही एक मामला बिहार के गोपालगंज से प्रकाश में आया है, जहां गुलाफ्सा खातून की सुंदरता ही उसकी मौत का कारण बन गई। पत्नी की सुंदरता की तारीफ सुनकर पति को अपनी पत्नी पर शक हो गया और पति ने उसकी गला रेतकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।पुलिस के मुताबिक, सीवान जिले के बड़हरिया थाना क्षेत्र के पकड़ी गांव के रहने वाले रूस्तम अली की बेटी गुलाफ्सा खातून का निकाह करीब पांच साल पहले छपरा के पानापुर थाना क्षेत्र के सद्दाम हुसैन के साथ हुआ था। शादी के बाद इन्हें दो बच्चे भी हुए।

सोमवार को सद्दाम ने अपने ससुराल में फोन कर पत्नी से बैंक खाते में रुपये डालने को बोला। वह अपने पति के बैंक खाते में पैसा डालने के लिए मीरगंज गयी, जहां सद्दाम ने उसे अपने साथ कार में बैठा लिया और देर शाम होने पर जीगना मानिकपुर के पास बाइपास रोड में उसकी हत्या कर दी। हत्या की खबर मिलने पर पहुंची मीरगंज पुलिस ने एनएच-531 से महिला का शव बरामद किया। इधर, पुलिस ने भाग रहे आरोपी पति और उसके साथी आमिर हुसैन को डुमरिया पुल के पास से गिरफ्तार कर लिया। हत्या में इस्तेमाल किये गये चाकू और वाहन को भी पुलिस ने बरामद किया है।

हथुआ के अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) नरेश कुमार ने मंगलवार को बताया कि मृतका के पति और उसका खलासी दोनों ने मिलकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। हत्या के बाद दोनों नेपाल भाग रहे थे, लेकिन महम्मदपुर पुलिस की मदद से दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। एसडीपीओ ने कहा कि इस मामले में मीरगंज थाने में हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। इधर, परिवार वालों का कहना है कि गुलाफ्सा खातून ज्यादातर अपने मायके में ही रहती थी। इस दौरान सद्दाम भी ससुराल आता रहता था। ससुराल के लोग सद्दाम के सामने उसकी पत्नी की सुंदरता को लेकर तारीफ करते थे। यह तारीफ ही सद्दाम को शक की गहराई में लेकर जाने लगी। उल्लेखनीय है कि छपरा के रसूलपुर गांव के रहने वाले सद्दाम एक पिकअप वैन का मालिक था और उसे खुद चलाता भी था, जबकि आमिर हुसैन उसी वैन में सहचालक था। हथुआ एसडीपीओ के मुताबिक, सद्दाम को पत्नी की खुबसूरती पर नाज करने की बजाय शक हो गया। इसी को लेकर दोनों में झगड़ा होने लगा था।