कुमाऊँ मण्डल को पीएम मोदी देंगे AIIMS की सौगात – सीएम धामी

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

पिथौरागढ़ : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सोमवार को पिथौरागढ़ के गंगोलीहाट पहुंचे। सीएम ने कहा कि मैनें पीएम मोदी से आग्रह किया था कि ऋषिकेश की तरह ही कुमाऊं मंडल के लिए भी एम्स होना चाहिए। मेरी आग्रह काे स्वीकार करते हुए उन्होंने सहमति दी और अब 30 दिसंबर को हल्द्वानी आगमन पर कुमाऊं में एम्स का शिलान्यास करेंगे।

सोमवार को गंगोलीहाट के जीआइसी मैदान में जनसभा में क्षेत्र की दो सड़को का नाम क्षेत्र के शहीदों के  नाम किया। बेरीनाग में मंडोली दुबौली  मार्ग शहीद चारु चंद्र पाठक और एक अन्य सड़क का नाम शहीद बहादुर सिंह के नाम पर किए जाने की घोषणा की। कहा कि ऋषिकेश एम्स के अलावा अब कुमाऊं में भी एम्स की शुरुआत होने जा रही है। इसका शिलान्यास पीएम नरेंद्र मोदी आगामी 30 दिसंबर को हल्द्वानी दौरे के दौरान करेंगे। अब पहाड़ की जनता को आसानी से इलाज उपलब्ध होगा। गंभीर बीमारियाें के लिए अन्य राज्यों में चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में जल्दी ही विशेषज्ञों की तैनाती की जाएगी। गंगोलीहाट में पूर्व में स्वीकृत कृषि महाविद्यालय के मामले में अगली कैबिनेट में निर्णय लिया जाएगा। अपने 35 मिनट के संबोधन में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेकर सरकार की उपलब्धियां गिनाई, वही कांग्रेस पर जमकर प्रहार किए।

मुख्यमंत्री सोमवार दोपहर को दशाइथल हैलीपैड पर उतरे। जहां पर उनका स्वागत किया। हेलीपैड से चार किमी दूर सिद्धपीठ हाटकालिका मंदिर पहुंचे। मंदिर में पूजा अर्चना की। 15 मिनट मंदिर में रहने के बाद जीआइसी मैदान पहुचे।  जहां पर ढोल नगाड़ों ओर छोलिया नृत्य के साथ स्वागत हुआ। सीएम ने छलिया नृतक की तलवार लेकर खुद नृत्य किया। पत्रकारों द्वारा बेरीनाग ओर चौकोड़ी की भूमि के मालिकाना हक के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसके लिए एक कमेटी का गठन कर शीघ्र निर्णय लिया जाएगा। विगत पांच माह  मड़कनाली सुरखाल पाठक  सड़क को लेकर आंदोलन कर रहे ग्रामीणों को बताया कि मार्ग निर्माण में बांज के पेड़ अधिक होने से वन विभाग ने स्वीकृति के लिए फाइल वन एवं पर्यावरण मंत्रालय को भेजी है। वहां से स्वीकृति की प्रतीक्षा की जा रही है।