मोबाइल से भी हो सकते हैं आप कोरोना संक्रमित, ये है संक्रमण से बचने का तरीका…

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

न्यूज़ डेस्क: कोरोना महामारी का प्रकोप है कि कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है. अब एक बार फिर से कोरोना की तीसरी लहर एंट्री कर रही है. एक बार फिर से कोरोना के खैंफ से लोग घरों में बंद होना शुरू हो गए हैं. ऐसे में कोरोना के प्रकोप के बीच हर किसी को खुद को सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी भी है. ऐसे में जहां हम बार बार हाथ धो रहे या फिर हाथ सैनेटाइज कर रहे हैं, तो इसके साथ ही हमको अपने फोन का भी ध्यान रखना होगा. हम अक्सर अपने फोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज को साफ करना इग्नोर करते हैं. लेकिन इन दिनों जिस तरह से कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार हो रहा है, उससे सावधान होने की जरूरत है. दुनिया भर में नया कोविड -19 वेरिएंट ओमिक्रॉन के सामने आने के साथ स्वच्छता की आवश्यकता एक बार फिर स्पष्ट हो गई है.

कीटाणुरहित रहे फोन

हाथों के साथ-साथहमें अपने हर समय उपयोग किए जाने वाले फोन को बैक्टीरिया मुक्त रखने के महत्व को भी जानना चाहिए. एक अध्ययन के अनुसार एक सेल फोन टॉयलेट सीट की तुलना में 10 गुना अधिक बैक्टीरिया ले जा सकता है. ऐसे में साफ है कि संक्रमण और वायरस के संभावित संचरण को रोकने के लिए हमारे सेल फोन को कीटाणुरहित करना कितना जरूरी है. इतना ही नहीं कहा जाता है कि मोबाइल फोन का साफ रहना इसलिए आवश्यक है क्योंकि ये सीधे चेहरे या मुंह के संपर्क में आता है भले ही हाथ कितना भी ठीक से क्यों न साफ किया गया हों.

मोबाइल को करें साफ

आज के दौर में मोबाइल फोन हम सभी के जीवन का एक अहम हिस्सा हो गया है. सेल फोन हमें कीटाणुओं और जीवाणुओं से प्रभावित होने के लिए अधिक संवेदनशील बनाता है. लगभग हर किसी की आदत होती है कि फ़ोन को हर जगह, यहां तक कि दूषित वातावरण में भी ले जाते हैं.

लोगों के बीच फोन दूसरो से साझा करना एक समस्या है. अक्सर हम अपना फोन किसी दूसरो किसी कारण से धमा देते हैं, इससे दूसरे के हाथों का संक्रमण फोन के जरिए आप तक पहुंच जाता है. यानी कि अगर गलत से आपने किसी कोरोना संक्रमित इंसान तो अपना फोन दिया है, तो वायरस फोन के जरिए आप तक भी पहुंच जाएगा.

ऐसे में किसी को फोन देने के बाद आपको अपने फोन को नियमित रूप से एंटी-बैक्टीरियल वाइप्स से पोंछना चाहिए. अगर आप इस कोविड के समय में घर के बाहर जा रहे हैं तो कोशिश करें कि बिना सैनेटाइज किए फोन को ना छुएं, किसी से फोन यूज कर रहे हैं तो घर आने के बाद उसको जरूर साफ करें. फोन को साफ करने के बाद ही यूज करें. आप फोन को साफ करने के लिए टाणुरहित स्प्रे के बजाय अल्कोहल स्वैब (60 प्रतिशत पानी और एक मुलायम कपड़े पर 40 प्रतिशत अल्कोहल रगड़) का उपयोग कर सकते हैं.