कोरोना ने फीकी की  चुनाव की रौनक ! जुलूस के साथ नॉमिनेशन नहीं कर पाएंगे प्रत्याशी, पढ़िये पूरी खबर

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

नई दिल्ली : ढोल नगाड़ों की धूम पर नाचते समर्थकों की भीड़ के साथ नामांकन पत्र दाखिल करने जाते नेताओं के नजारे आगामी विधानसभा चुनाव में नजर नहीं आएंगे। कोविड के कारण भारत निर्वाचन आयोग ने नामांकन के समय प्रत्याशी के साथ अधिकतम दो प्रस्तावकों के ही मौजूद रहने की सीमा लगा दी है। साथ ही नामांकन पत्र, शपथ पत्र और जमानत राशि से जुड़े काम का ऑनलाइन विकल्प भी दे दिया है।

कोविड संक्रमण के दौरान आयोजित होने वाले चुनावों के लिए भारत निर्वाचन आयोग अगस्त 2020 में ही विस्तृत गाइडलाइन जारी कर चुका है। बिहार, बंगाल सहित कई राज्यों के चुनाव इसी गाइडलाइन के साथ सम्पन्न हो चुके हैं। अब उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भी यही गाइडलाइन लागू होगी। इसके मुताबिक प्रत्याशी मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर नामांकन पत्र, शपथ पत्र ऑनलाइन भर सकेंगे।

इसके साथ ही जमानत राशि भी ऑनलाइन जमा हो सकेगी। हालांकि नामांकन पत्र जमा करने के लिए प्रत्याशियों को रिटर्निंग अधिकारियों के सामने पेश होना होगा। लेकिन इस दौरान उनके साथ अधिकतम दो प्रस्तावक ही मौजूद रहेंगे। भीड़ भाड़ से बचने के लिए रिटर्निंग अधिकारी प्रत्याशियों को नामांकन के लिए अलग- अलग समय देंगे, इस तरह प्रत्याशी पूर्व निर्धारित समय पर ही नामांकन के लिए उपस्थित होंगे।