May 16, 2022 10:48 am

50 हजार के इनामी रवि गोप को फिर से गिरफ्तार करेगी पटना पुलिस, अरेस्टिंग के तीसरे दिन ही मिला था बेल

पटना के कुख्यात अपराधी रवि गोप की फाइल फोटो

पटना के कुख्यात अपराधी रवि गोप की फाइल फोटो

Crime In Patna: पटना पुलिस ने रवि गोप को शादी के मंडप से एसटीएफ की मदद से उठाया था लेकिन कानूनी प्रक्रिया के तहत उसे महज तीन दिन में ही बेल मिल गया और वो जेल से छूट गया.

पटना. बिहार में 50 हजार के ईनामी अपराधी रवि गाेप (Criminal Ravi Gope) के जमानत पर जेल से छूटने के बाद एक बार फिर उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस हरकत में आ गई है. उस पर दीघा में तीन और दानापुर में एक केस (FIR) दर्ज है. दानापुर में दर्ज हत्या के लिए अपहरण मामले में वह फरार चल रहा है बाकी दीघा के तीनाें केस में वह बेल पर है. दीघा के रामजीचक के रहने वाला रवि काे गिरफ्तार करने के लिए उसके घर से लेकर कई अड्डाें पर छापेमारी हुई पर वह फरार पाया गया.

सूत्राें के अनुसार जमानत मिलने के बाद वह अकेले भागा है. खास बात यह है कि एएन काॅलज से प्रथम श्रेणी से आईएससी पास रवि माेबाइल का इस्तेमाल नहीं करता है, इस वजह से पुलिस उसका लाेकेशन नहीं ले पा रही है. पुलिस की नजर उसकी प्रेमिका पर है जिससे वह अथमलगाेला में 6 दिसंबर की रात काे शादी कर रहा था, इसी बीच एसटीएफ व पटना पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर उसे मैरेज हाॅल से ही गिरफ्तार कर लिया और उसे पटना लेकर आ गई.

दीघा थाना में दर्ज रंगदारी व धमकी मामले में वह फरार चल चल रहा था, पुलिस ने इसी केस में उसे 7 दिसंबर काे जेल भेज दिया. 8 काे उसके वकील ने जमानत के लिए याचिका दायर की. उसे 8 काे बेल हाे गया. 8 की शाम काे ही काेर्ट से रिलिजिंग ऑर्डर फुलवारी जेल पहुंचा और जेल प्रशासन ने उसे 9 की सुबह करीब 8 बजे ही छाेड़ दिया. जब तक पुलिस दानापुर थाना में फरार चल रहे मामले में प्राेडक्शन वारंट ले पाती तब तक वह जेल से निकल चुका था.

इस मामले में जांच कर रहे सिटी एसपी वेस्ट की रिपाेर्ट तीसरे दिन भी नहीं आई. रिपाेर्ट आने के बाद पटना पुलिस इसे गृह विभाग काे भेजेगी. पुलिस रिपाेर्ट के साथ यह भी लिखेगी कि पुलिस ने जेल प्रशासन से कहा था कि रवि काे बेल हाे गया है पर दानापुर के हत्या के लिए अपहरण के एक केस में वह फरार चल रहा है. इस मामले में पुलिस व जेल प्रशासन आमने-सामने हाेने जा रही है.सिटी एसपी जांच करने के बाद रिपाेर्ट में किन-किन बिंदुओं का उल्लेख करते हैं, यह देखने वाली बात हाेगी. वैसे इस कुख्यात के जमानत मिल जाने पर कई अधिकारियाें पर कार्रवाई हाेनी तय मानी जा रही है.

Source link