May 16, 2022 10:55 am

लोकतन्त्र को कायम रखने के लिए विपक्ष का मजबूत होना जरूरी – त्रिवेन्द्र सिंह रावत

काशीपुर: पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि लोकतंत्र में मजबूत विपक्ष का होना बहुत जरूरी है। लोकतंत्र तभी कायम रह सकता है जब विपक्ष मजबूत होगा। पूर्व सीएम मंगलवार को बेरिया दौलत रोड स्थित गौशाला पहुंचे। उन्होंने गौशाला में गायों को गुड़ और चने खिलाए। यहां पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि एनएच घोटाले की जांच सीबीआई द्वारा की जा रही है। जांच बगैर दबाव और निष्पक्ष होनी चाहिए। एक सवाल के जवाब में त्रिवेंद्र ने कहा कि एनएच घोटाले में कथित सफेदपोश का संरक्षण हो सकता है। उनके शासनकाल में एनएच घोटाले में दो उच्चाधिकारियों को निलंबित किया गया था। कई अधिकारी जेल गए, कई लोगों ने धन वापस भी किया था। उन्होंने कहा कि घोटाले में गलत तरीके से मुआवजा हासिल किया गया था।


उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा दिया जा रहा है। भाजपा सरकार एजेंडे के मुताबिक जनहित के कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि आने वाला समय चुनौतीपूर्ण है, आगे हमें लंबी सोच के साथ प्लानिंग करनी होगी। इस मौके पर भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजेश कुमार, सत्य भूषण सिंगला, सुशील सिंगला, विरेंद्र बिष्ट, खीम सिंह दानू, महेश राठोर, विकास गुप्ता, गोपाल कोछड़ आदि मौजूद थे। उधर, पूर्व सीएम रावत का सूर्या रोशनी प्लांट में पहुंचने पर स्वागत किया गया। उन्होंने सूर्या प्लांट का निरीक्षण किया। उन्होंने प्लांट की कार्यशैली व अनुशासन व्यवस्था को देखकर प्रसन्नता जताई।

पूर्व सीएम रावत ने पूर्व शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के आवास पर जाकर उनके पौत्र के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की। इसके बाद उत्तराखंड दुग्ध संघ के पूर्व अध्यक्ष अर्जुन सिंह रौतेला के निधन पर उनके गांव हरिपुरा हरसान में आवास पहुंच कर शोक जताया। उनके साथ गजराज बिष्ट, सुरेश परिहार, राकेश भुड्डी उर्फ बंटी, सतीश चुघ, तरुण दुबे, योगेश पानू, अनादि मंडल, हिमांशु सरकार, बाबू तोमर आदि भाजपा नेता मौजूद रहे।