May 21, 2022 11:47 pm

रंग लाया स्वाति का संघर्ष : शांति नेगी ने बेटी को बदनाम करने की अपनी हरकतों पर पुलिस में दिया लिखित माफीनामा- कहा भविष्य में नहीं दोहराउंगी पुत्री की प्रतिष्ठा पर प्रहार का घटिया कारनामा

कोटद्वार: अपने ही परिजनों से अपनी प्रतिष्ठा और आत्मसम्मान की लड़ाई लड़ रही स्वाति नेगी को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। कोटद्वार की स्वाति नेगी के मुताबिक काशीरामपुर तल्ला निवासी उनकी मां श्रीमती शांति देवी लम्बे समय से सार्वजनिक रूप से अमर्यादित तथा अशोभनीय बयानबाजी कर उनकी प्रतिष्ठा तथा आत्मसम्मान को चोट पहुंचाने और मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने के कार्य में लिप्त रहीं हैं। इसके अतिरिक्त उनकी माता तमाम सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स पर भी समय समय पर अपनी पोस्ट/कमेंट्स के माध्यम से उनकी छवि धूमिल कर बदनाम करने का कार्य/षडयंत्र करती रही हैं।

स्वाति के अनुसार अपनी माता श्रीमती शांति नेगी के उक्त कृत्यों से गहरे मानसिक आघात तथा अवसाद का शिकार होकर उन्हें न्याय के लिए पुलिस में शिकायत करनी पड़ी। बाजार पुलिस चौकी प्रभारी ,कोटद्वार ने मामले का संज्ञान लेते हुए उनकी माता शांति देवी और पिता शीशपाल सिंह नेगी को चौकी में पूछताछ के लिए तलब किया। पूछताछ के दौरान श्रीमती शांति देवी ने यह स्वीकार किया कि अपनी पुत्री स्वाति के विरुद्ध उनके द्वारा दिए गए सभी बयान/कमेंट्स झूठे तथा आधारहीन थे। उन्होंने पुत्री स्वाति नेगी के विरुद्ध दिए सभी अशोभनीय और अमर्यादित बयानों के लिए क्षमा याचना की।

पूरे प्रकरण में अपनी गलती स्वीकारते हुए श्रीमती शांति देवी ने चौकी प्रभारी को लिखित माफीनामा देकर यह आश्वासन भी दिया कि भविष्य में वे अपनी बेटी स्वाति के सम्मान को चोट पहुंचाने का किसी भी तरह का कोई कार्य नहीं करेंगी। स्वाति ने सहयोग तथा त्वरित करवाई के लिए कोटद्वार पुलिस का आभार व्यक्त किया है।