May 21, 2022 2:59 am

सीएम योगी आदित्यनाथ और सीएम पुष्कर सिंह धामी ने 21 सालों से चला आ रहा संपत्ति विवाद कर दिया खत्म…

हरिद्वार: उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के बीच 21 सालों से चला आ रहा संपत्ति का विवाद खत्म हो चुका है. सीएम योगी आदित्यनाथ और सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मिलकर पुराने विवाद को खत्म कर दिया है. हालांकि इसकी शुरुआत करीब ढाई साल पहले उत्तराखंड के तत्कालीन सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के बीच बातचीत से हुई थी. दोनों राज्यों के बीच संपत्ति बंटवारे का जो फॉर्मूला निकला है, उसके मुताबिक उत्तराखंड को अलकनंदा होटल मिला. यूपी ने अपने हिस्से में भागीरथी होटल बनाया.

भागीरथी होटल की ये है खासियत

भागीरथी होटल के उदघाटन कार्यक्रम में तमाम साधु संत भी शामिल होंगे. यही वजह है कि यहां कोई मंच ना बनाकर सब के लिए एक लेवल पर बैठने का इंतजाम किया गया है. गंगा घाट पर बना होटल भगीरथी आधुनिक सुविधाओं से लैस है. इसके कमरों में 5 स्टार होटल जैसी सुविधा दी गई है. होटल में कुल 100 कमरे बनाये गए हैं.

साल 2000 में यूपी से अलग हुआ था उत्तराखंड

यूपी से अलग होने के बाद उत्तराखंड को अलग राज्य का दर्जा साल 2000 में मिला. तब बहुत सी ऐसी सम्पत्तियां थीं जिनको लेकर दोनों राज्यों में विवाद था. उन्हीं में से एक होटल अलकनन्दा है, जो गंगा जी के किनारे पर बना है. इस होटल को यूपी पर्यटन निगम चलाता रहा है, जिसपर उत्तराखंड अपना कब्जा चाहता था. ढाई साल पहले बातचीत में ये तय हुआ कि अलकनन्दा के बगल की जमीन यूपी को दे दी जाए जिसपर अपने खर्च से यूपी अपना होटल बना ले. अब होटल बनकर तैयार है जिसका आज उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे.