May 18, 2022 11:02 am

पत्नी से था इतना प्यार, शव के साथ गुज़ार दिये 21 साल, बेटों ने भी छोड़ दिया था बाप का साथ, पढ़िये पूरी खबर…

न्यूज़ डेस्क: दुनिया में पति-पत्नी का रिश्ता सबसे अलग माना जाता है। साथ ही ये ऐसा रिश्ता होता है जिसकी मिसालें देते लोग नहीं थकते हैं। अब इस मजबूत रिश्ते के प्यार को दर्शाती एक ऐसी कहानी सामने आयी है जिसे सुनकर आप भी भावुक हो जायेंगे। जी हाँ हम आपको ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने पत्नी की मौत के बाद भी उसका साथ नहीं छोड़ा। करीब 21 साल तक वो पत्नी के शव के साथ एक कमरे में रहा। अब उन्होंने एक डर की वजह से पत्नी का अंतिम संस्कार कर दिया।

एक खबर के मुताबिक 72 साल के चरण जनवाचकल थाईलैंड के बैंग खेन जिले के निवासी है। 21 साल पहले उनकी पत्नी की एक बीमारी के कारण मौत हो गई थी। वो अपनी पत्नी से बेइंतहा मोहब्बत करते थे, जिसके चलते उन्होंने शव को कब्रिस्तान में दफन करने की जगह अपने घर में ही दफन कर लिया। चरण कभी अपनी पत्नी के शव के साथ बातें करते तो कभी उसके पास जाकर सो जाते।

चरन ने इस साल 30 अप्रैल को अपनी पत्नी की बॉडी को दफना दिया। उसने फेट कसम बैंकाक फाउंडेशन के साथ मिलकर पत्नी का अंतिम संस्कार किया। इस दौरान वह काफी रोता हुआ दिखाई दिया। बता दें चरन ने अपनी पत्नी को बंग खेन डिस्ट्रिक्ट में दफनाया। अपनी पत्नी की बॉडी से बात करने हुए चरन उसे जल्द लौटा कर ले आने का वादा करता नजर आया। लोग अपनी पत्नी के शव के साथ 21 साल रहने वाले इस पति को ऐसे रोते देख हैरान थे। चरन अपनी पत्नी की बॉडी के साथ बातें करता था और उसके साथ इस तरह से रहता था जैसे वो जिन्दा हो। चरण के दो बेटे हैं, लेकिन जब वह अपने पिता को मां की मौत के सदमे से बाहर नहीं निकाल पाए तो छोड़ कर चले गए।

अंतिम विदाई के दौरान चरन की रोने-बिलखने की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। आपको बता दें, पत्नी की मौत के बाद चरन के दोनों बेटे उन्हें अकेला छोड़कर चले गए। लेकिन इस बात से चरण को कोई खास फर्क नहीं पड़ा। लेकिन अब 21 साल के बाद उन्होंने अपनी पत्नी के शव का अंतिम संस्कार करने का फैसला लिया है। पिछले महीने 29 अप्रैल को चरण ने अंतिम संस्कार का निर्णय लेकर एक संस्था से संपर्क किया। संस्था की मदद से उन्होंने पत्नी के शव के बचे हुए हिस्सों को ताबूत से बाहर निकालकर विधि-विधान से अंतिम विदाई दी।