May 16, 2022 5:46 pm

दलितों की पिटाई होती रहती है लेकिन इसके बाद वो भी मंदिर जाना नहीं छोड़ रहे, मैं कहता हूँ जहां सम्मान न हो वहां जाते क्यों हैं?- उदित राज, नेता कांग्रेस

नई दिल्ली: दलितों पर अत्याचार की खबरों को लेकर कांग्रेस नेता उदित राज अपने एक ट्वीट के चलते लोगों के निशाने पर आ गये। बता दें कि उदित राज ने ट्वीट के जरिए दलितों से मंदिरों में ना जाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि दलितों की पिटाई होती रहती है लेकिन इसके बाद वो भी मंदिर जाना नहीं छोड़ रहे, ऐसे में इनकी और पिटाई होनी चाहिए। ट्वीट में उदित राज ने लिखा, “आए दिन समाचार मिलते रहते हैं कि दलितों को मंदिर प्रवेश या पूजा पाठ से रोका जाता है और पीटते भी हैं। मैं चाहता हूं इनकी और पिटाई हो तभी जाना बंद करेंगे। जहां सम्मान न हो वहां जाते क्यों हैं?” उनके इस ट्वीट पर ट्विटर पर कई यूजर्स ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

सुनील कुमार प्रजापति(@SunilKu13728577) ने लिखा, “इसका मतलब आप मंदिर नहीं जाते हैं।” एक अन्य यूजर ने उदित राज की बात पर लिखा, “वही तो.. फिर कांग्रेस में क्यों गए.. बस कांग्रेस उनको वो कर दे तभी कांग्रेस से भागेंगे जैसे भाजपा से भी शायद वो होने बाद भागे थे? इनके लिए वो बहुत जरूरी होता है?”

सिकंदर दास ने उदित राज का साथ देते हुए लिखा, “आपका कहना सही है, लेकिन मानने वाले हैं कहां, जिस दिन समझ में आएगा तब तक बहुत देर हो चुकी होगी। और फिर से वही जिंदगी जीने पर मजबूर होंगे। फिर कोसेंगे कि हम लोगों का अपना समाज साथ नहीं देता है।”

रमेश(@RameshK33894419) नाम के एक यूजर ने लिखा, “कांग्रेस में आपका सम्मान है क्या? फिर दलित है बोलकर दरी बिछाने का काम दिया जाता है क्या। दलित जब राष्ट्र पति बन सकता है तो कांग्रेस प्रेजिडेंट क्यों नही बन सकता आंदोलन कीजिये हम आपके साथ है।”

बता दें कि भाजपा के पूर्व सांसद रहे उदित राज अब कांग्रेस में हैं। सोशल मीडिया पर वो अक्सर दलितों से जुड़ी समस्याओं को उठाते रहते हैं। उत्तर-पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी सांसद रहे उदित राज ने 2019 लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा का साथ छोड़ दिया था। उसके कुछ देर बाद ही उन्होंने राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थाम लिया था।