May 16, 2022 10:50 am

अब नहीं कर पाएंगे आप किसी की कॉल रिकॉर्डिंग, एंड्रॉइड यूजर्स इन ऐप्स को नहीं कर पाएंगे इस्तेमाल, पढ़िये पूरी खबर

न्यूज़ डेस्क: पिछले महीने, Google ने Play Store से सभी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स पर बैन लगाने की घोषणा की थी। Google Play Store पॉलिसी में बदलाव आज 11 मई से लागू होगा। हालांकि जो इनबिल्ट कॉल रिकॉर्डिंग फीचर ऐप है उनका कुछ नहीं होगा और उसका इस्तेमाल कर पाएंगें। तो यदि आपके स्मार्टफोन में कॉल रिकॉर्ड करने के लिए कोई इनबिल्ड नेटिव कॉल रिकॉर्डिंग ऐप नहीं है, तो आप कॉल को रिकॉर्ड नहीं कर पाएंगे और न ही कोई ऐप इंस्टॉल कर पाएंगे।

आज से कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स हो जाएंगे बैन

गौरतलब हो कि टेक दिग्गज पिछले कई वर्षों से कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स (Call Recording Apps) के खिलाफ है। ऐसा इसलिए है क्योंकि कंपनी का मानना ​​है कि कॉल रिकॉर्ड करना यूजर्स की प्राइवेसी का हनन है। उसी के कारण, गूगल के अपने डायलर ऐप पर कॉल रिकॉर्डिंग फीचर पर दिया है। इस फीचर से यूजर्स को पता चल जाता है कि उनकी कॉल को रिकॉर्ड किया जा रहा है।

Google ने स्पष्ट किया है कि बदलाव केवल थर्ड-पार्टी ऐप्स को प्रभावित करेगा। इसका मतलब है कि Google डायलर पर कॉल रिकॉर्डिंग तब भी काम करेगी जब वह आपके डिवाइस या क्षेत्र पर उपलब्ध हो। यह भी स्पष्ट करता है कि कॉल रिकॉर्डिंग फीचर वाला कोई भी प्रीलोडेड डायलर ऐप पूरी तरह से ठीक काम करेगा। यानी जो ऐप्स Google Play स्टोर पर उपलब्ध हैं उन्हीं को बैन और हटाया जाएगा।

Truecaller ने हटा दिया कॉल रिकॉर्डिंग फीचर

Google द्वारा कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा के एक दिन बाद, Truecaller ने अपने प्लेटफॉर्म से कॉल रिकॉर्डिंग फीचर को हटा दिया था। ट्रूकॉलर के प्रवक्ता ने कहा, “अपडेट की गई Google डेवलपर डेवलपर पॉलिसी के अनुसार, हम अब कॉल रिकॉर्डिंग की पेशकश करने में असमर्थ हैं। यह उन डिवाइसों को प्रभावित नहीं करेगा जिनके पास डिवाइस में मूल रूप से इनबिल्ड कॉल रिकॉर्डिंग फीचर है।”

अब नहीं कर पाएंगे थर्ड-पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को इंस्टॉल

नई पॉलिसी के बाद आज से गूगल अपने प्ले स्टोर से सभी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को हटा रहा है और जिन्होंने ऐप्स को इंस्टॉल कर रखा है वो भी काम करना बंद कर देंगे। इस प्रकार अब सिर्फ इनबिल्ड कॉल रिकॉर्डिंग फीचर से ही किसी कॉल को रिकॉर्ड कर पाएंगे।