July 3, 2022 2:47 pm

‘चेहरे पर गोली मारी, कब्र में दफनाया’, फिर भी कैसे जिंदा निकल आया? पढ़िये पूरी खबर…

न्यूज़ डेस्क: दुनिया में कई चमत्कार देखने को मिलते हैं। कई बार ऐसे मामले देखकर सोचने पर मजबूर हो जाते हैं कि ऐसा कैसे हो सकता है। ऐसी ही एक घटना यूक्रेन में भी एक व्यक्ति के साथ हुई। बता दें कि रूस और यूक्रेन के बीच पिछले 2 माह से भी ज्यादा वक्त से युद्ध चल रहा है। रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के कई शहरों में तबाही मचाई हुई है। इस युद्ध में यूक्रेन के नागरिकों की भी मौत हुई है। लेकिन यहां एक व्यक्ति के साथ ऐसा कुछ हुआ कि आप भी सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि ऐसा कैसे हो गया। दरअसल, रूसी सैनिकों ने एक यूक्रेनी व्यक्ति को गोली मारकर उसे कब्र में दफना दिया था। इसके बाद भी वह व्यक्ति कब्र से जिंदा बाहर आ गया। इस व्यक्ति ने सीएनएन से बातचीत में पूरी घटना के बारे में बताया। मायकोला कोलिचेन्को नाम के यूक्रेन व्यक्ति ने दावा किया है कि उन्हें और उनके भाइयों को 18 मार्च 2022 को रूस की सेना ने घर से बाहर निकाला और लगभग 3 दिन तक उनसे पूछताछ की। रूसी सेना के काफिले पर बमबारी के आरोप में उनसे पूछताछ की थी।

यूक्रेनी व्यक्ति का कहना है कि रूसी सैनिकों ने पूछताछ के दौरान उसे और उसके भाईयों को शारीरिक रूप से काफी प्रताड़ित किया गया। पूछताछ के चौथे दिन, कुलिचेंको को एक सैन्य वाहन के पीछे बांधा गया और आंखों पर पट्टी बांधी गई। उन्हें जंगल की ओर ले जाया गया। साथ ही उसने बताया कि उसके दोनों भाईयों को उससे कुछ मीटर दूरी पर ही मार दिया गया और एक कब्र खोदी गई। कुछ देर बाद मायकोला के चेहरे पर भी गोली मार दी गई। हालांकि, गोली से उनके चेहरे को अधिक नुकसान नहीं पहुंचा, लेकिन उसने मरने की एक्टिंग की।

यूक्रेनी व्यक्ति ने दावा किया कि इसके बाद उसे और उसके दोनों भाईयों को रूसी सैनिकों ने कब्र में दफना दिया। वहां से मायकोला ही अकेले बाहर जिंदा निकल पाए। दरअसल, रूसी सैनिकों ने जो कब्र बनाई थी वह अधिक गहरी नहीं थी। उस व्यक्ति ने कहा, ‘मैं भाग्यशाली था और अब मुझे बस जीते रहना है।’ मायकोला ने बताया कि लकड़ी के छोटे से घर में वे लोग रहते थे जहां रूस की सेना ने धावा बोल दिया था।