August 12, 2022 1:30 am

क्या कांग्रेस की मांग पूरी करेंगे सीएम धामी ?

देहरादून: कांग्रेस ने केंद्र सरकार से अग्निपथ भर्ती योजना को तत्काल वापस लेने की मांग की और पूर्व की तरह नियमित भर्तिंया बहाल रखने को कहा है। कांग्रेस ने प्रदेश के सीएम पुष्कर सिंह धामी से भी मांग कि वो वीरभूमि उत्तराखंड के युवाओं की भावनाओं को केंद्र सरकार के सामने मजबूती से रखे। दूसरी तरफ, अग्निपथ भर्ती योजना  के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे युवाओं पर हल्द्वानी में हुए लाठीचार्ज के खिलाफ कांग्रेस कल रविवार को हल्द्वानी में गांधीवादी तरीके से उपवास करेगी। प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने सभी विधायक और पदाधिकारियों को भी इसमें शामिल होने को कहा है।

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि देश के युवाओं में सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करने का जज्बा कूट कूट कर भरा है। लेकिन केंद्र सरकार ने युवाओं की राष्ट्रभक्ति की भावना के साथ भी खिलवाड़ कर दिया है। महज चार की नौकरी का भला क्या मतलब है? चार साल की सेवा के बाद अग्निवीर कहां जाएंगे? सरकार को चाहिए कि एक सुनिश्चित भविष्य युवाओं को दे।

कांग्रेस विधायक दल के उपनेता भुवन कापड़ी ने कहा कि उत्तराखंड सैन्यभूमि के रूप में विख्यात है। युवा कई कई साल मेहनत करते हैं जब जाकर सेना में भर्ती होने का मौका मिलता है। अब केवल चार साल में ही रिटायरमेंट कर दिए जाने से उनका भविष्य तो खराब हो जाएगा।

कापड़ी ने सीएम से अनुरोध किया कि एक सैनिक पुत्र होने के नाते ही सही, वो देश के युवाओं की भावनाओं से केंद्र सरकार को अवगत कराएं। कांग्रेस हमेशा युवाओं के संघर्ष के साथ रहेगी। पिथौरागढ़ विधायक मयूख महर ने कहा अग्निपथ योजना के नाम पर युवाओं से उनका हक छीनने का प्रयास युवा विरोधी है।

कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष-संगठन एवं प्रशासन मथुरादत्त जोशी ने कहा कि केंद्र सरकार ने साबित कर दिया है कि वो युवा विरोधी है। हर साल दो करोड़ रोजगार देने के वादे करने वाली सरकार युवाओं के लिए हर तरफ से अवसर खत्म कर रही है। सेना में ठेके की व्यवस्था राष्ट्र की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ से कम नहीं है।