August 12, 2022 1:45 am

राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी घोषित होने के अगले ही दिन द्रौपदी मुर्मू को दी गई  Z कैटेगरी की सिक्योरिटी…

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी ने मंगलवार को राष्ट्रपति पद के लिए एनडीए के उम्मीदवार के रूप में द्रौपदी मुर्मू के नाम की घोषणा की। वहीं अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि केंद्र सरकार ने एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों द्वारा चौबीस घंटे जेड श्रेणी की सशस्त्र सुरक्षा मुहैया कराई है। यानी अब द्रौपदी मुर्मू सीआरपीएफ जवानों के सुरक्षा घेरे में रहेंगी। मामले की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि गृह मंत्रालय से मंगलवार शाम को मिले आदेश के बाद सीआरपीएफ ने बुधवार सुबह से द्रौपदी मुर्मू को सुरक्षा मुहैया कराई है। 64 वर्षीय द्रौपदी मुर्मू झारखंड की राज्यपाल भी रह चुकी है और आदिवासी समाज से आती हैं। द्रौपदी मुर्मू की जीत तय मानी जा रही है और अगर ऐसा होता है तो वह देश की पहली महिला आदिवासी राष्ट्रपति होंगी।

कैसी होती है जेड श्रेणी सुरक्षा: जेड श्रेणी सुरक्षा में कुल 55 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं जिसमें 10 एनएसजी कमांडो भी होते हैं। इसके साथ ही भारत तिब्बत बॉर्डर पुलिस, सीआरपीएफ और दिल्ली पुलिस के जवान भी सुरक्षा में रहते हैं। एसपीजी के कमांडो की सुरक्षा घेरे में शामिल होते हैं। सुरक्षा की जिम्मेदारी सबसे पहले एनएसजी की होती है और फिर एसपीजी की होती है।

जेड प्लस सुरक्षा, एसपीजी सुरक्षा के बाद सबसे अच्छी सुरक्षा व्यवस्था मानी जाती है। जेड प्लस सुरक्षा व्यवस्था में पायलट वाहन और एस्कॉर्ट के लिए गाड़ियां भी मुहैया कराई जाती है। साथ ही विशिष्ट व्यक्ति जिस घर में रहते हैं उस घर के हर एक एंट्री प्वाइंट पर सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। पूरी जांच पड़ताल के बाद ही किसी को अंदर जाने की इजाजत होती है। यह सुरक्षा व्यवस्था केंद्र सरकार मुहैया कराती है।

बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष ने यशवंत सिन्हा को अपना उम्मीदवार बनाया है। यशवंत सिन्हा पूर्व में अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं और सोमवार को ही उन्होंने टीएमसी से इस्तीफा दिया है। राष्ट्रपति पद के लिए 18 जुलाई को चुनाव होंगे और 21 जुलाई को नतीजे आएंगे। अगर मुर्मू चुनाव जीत जाती हैं तो वह देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति और पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति होंगी।