August 16, 2022 6:19 am

आवारगी के चलते शादी तो नहीं हो पाई, भाई का हत्यारा बन गया भाई, गुस्से मे माँ की भी कर दी पिटाई, पढ़िये पूरी खबर…   

मुजफ्फरपुर: बेटा कहता रहा ‘अम्‍मी, मेरी शादी करा दो’, मगर बेटे के नकारापन से चिढ़ी मां ने उसकी बातों पर ध्यान नहीं देना ही उचित समझा। अपनी बात मनवाने के लिए युवक घर में आए दिन क्लेश करता था। एक दिन बड़ेे और छाेटे भाई में इस बात को लेकर हो रही बहस हाथापाई तक पहुंच गई। इस दौरान गुस्‍से में भाई ने दूसरे भाई पर जानलेवा हमला कर दिया। कालीबाग ओपी क्षेत्र के छावनी मोहल्ले में घरेलू विवाद को लेकर मंगलवार की शाम में छोटे भाई ने बड़े भाई की चाकू मारकर हत्या कर दी। घटना में बेटे को बचाने आई मां अंतू नेशा (65) भी घायल हो गई हैं। उनका इलाज मोतिहारी के एक प्राइवेट अस्पताल में चल रहा है। मृतक की पहचान छावनी वार्ड पांच निवासी जावेद अख्तर (37) के रूप में की गई है। मामले में कालीबाग ओपी पुलिस ने आरोपित छोटे भाई इम्तेयाज खान को हिरासत लिया है। कालीबाग ओपी प्रभारी रणधीर कुमार भट्ट ने बताया कि मामले में मोतिहारी पुलिस बयान दर्ज की है। दर्ज बयान की कॉपी लाने के लिए पुलिस पदाधिकारियों को मोतिहारी भेजा गया है। बुधवार की दोपहर तक शव बेतिया नहीं पहुंचा था। परिवार के अन्य सदस्य भी मोतिहारी में हैं।

बड़े बेटे को बचाने आई मां पर भी उतार दी नाराजगी

बताया जाता है कि मृतक की शादी हो गई थी। जबकि छोटा भाई अभी कुंआरा है। छोटा भाई इम्तेयाज खान बेकार घूमता है। कोई रोजी रोजगार नहीं करता है। इस वजह से स्वजन उसकी शादी करने में रुचि नहीं ले रहे थे। इसी को लेकर वह स्वजन से नाराज रहता था। मंगलवार की शाम में अपने बडे भाई से उलझ गया। बात बढऩे पर उसे चाकू मार घायल कर दिया। बेटे को चाकू लगा देख उसकी मां बचाने आई तो उसे भी घायल कर दिया। बाद में स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए दोनों को जीएमसीएच में भर्ती कराया। जहां उनकी स्थिति गंभीर देख चिकित्सकों ने रेफर कर दिया। मोतिहारी में इलाज के दौरान बुधवार को जावेद अख्तर की मौत हो गई।