August 18, 2022 10:01 pm

पांच साल के मासूम ने मां की मौत का राज पुलिस को बताया, कहा- पापा ने पिटाई के बाद मम्मा को फंदे से लटकाया …

लखनऊ: बरावन कला मोहल्ले में दुबग्गा थाने में तैनात सिपाही रिंकू ने पुलिस को सूचित किया कि उसकी 30 वर्षीय पत्नी बृजेश कुमारी ने आत्महत्या कर ली है। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। हालांकि मामला उस दौरान पलट गया जब पांच साल के बेटे ऋषभ ने रोते हुए पूरी घटना की सच्चाई बयां कर दी।

रिंकू को देखकर पुलिस को हुआ शक 

बृजेश के फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना पर जब पुलिस मौके पर पहुंची तो रिंकू जोर-जोर से रो रहा था। वह कभी अपना सिर पीटता तो कभी शव की ओर भागकर जाता। यह सब देखकर पुलिस भी दंग थी। मौके से रिंकू कहीं फरार न हो जाए इसके लिए तत्काल ही पुलिस की तैनाती वहां पर की गई। पुलिस जब मौके पर आई तो बृजेश का पांच वर्षीय बेटे ऋषभ भी वहां पर मौजूद था। पुलिस ने शव को नीचे उतारा तो वह भी वहां पास में आ गया। हालांकि वह पिता के पास जाने में संकोच कर रहा था। यह देखकर एसीपी आशुतोष कुमार के इशारे पर एक पुलिसकर्मी ने उसे गोद में उठा लिया।

मासूम बेटे ने बताई पूरी कहानी 

पुलिसकर्मी बच्चे को पुचकारते हुए बाहर ले गए और उसके लिए पानी और चिप्स के पैकेट का प्रबंध किया। इसी बीच पूछताछ में ऋषभ ने पिता की क्रूरता की कहानी को बयां कर दिया। उसने बताया कि पापा ने म्मी को मारा और फिर ऊपर बांध दिया। इसके बाद बाद भी पापा मम्मी को मारते रहें। बच्चे ने नीचे के हिस्से में रहने वाली आंटी को भी बुलाया लेकिन वह नहीं आईं। इस बीच नीचे के हिस्से में रहने वाली मकान मालिक ने बताया कि रिंकू और बृजेश के बीच में पटती नहीं थी। दोनों के बीच किसी न किसी बात को लेकर अक्सर झगड़ा होता रहता था। बृजेश ने कई बार पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से भी शिकायत की थी।

कमरे में मिले संघर्ष के कई निशान

कमरे में मारपीट के दौरान बृजेश बचाव में काफी देर तक पति से झगड़ती रही। इस बीच उसकी चूड़ियां भी टूटी हुई देखी गई। यहां तक बालों की क्लिप भी टूटी पड़ी थी। मौके पर बर्तन भी फैले हुए पड़े थे और हर एक चीज संघर्ष की ओर इशारा कर रही थी।