August 12, 2022 3:01 am

पुलिस के पहुँचने पर कर दिया हंगामा, 2 महिलाओं को पड़ गया थाने लाना, दारोगा की वर्दी फाड़ी, पढ़िये पूरा मामला…

काशीपुर: नोटिस तामील कराने पहुंची पुलिस टीम के साथ आरोपी दो महिलाओं ने हाथापाई कर दरोगा की वर्दी फाड़ दी। जिसके बाद पुलिस टीम दोनों महिलाओं को हिरासत में लेकर कोतवाली ले आई है। कोतवाली पुलिस ने एसआई की तहरीर पर सरकारी कार्य में बाधा डालने के तहत मुकदमा दर्ज किया। टांडा चौकी प्रभारी जितेन्द्र कुमार ने कोतवाली पुलिस को तहरीर सौंपी। कहा कि सीओ काशीपुर  के आदेश पर 25 जून की सायं वह कांस्टेबल रामसिंह मेहरा, महिला कांस्टेबल सीता चौहान के साथ एक मुकदमा में धारा 41(क) सीआरपीसी का नोटिस तामील कराने के लिए हरगनिया कालोनी टांडा उज्जैन गए थे।

आरोपी चंद्रभान व उसकी पत्नी ऊषा, सोमपाल सिंह व उसकी पत्नी तारावती निवासीगण हरगनिया कालौनी टाण्डा उज्जैन के घर पहुंचे। जहां घर पर तारावती मिली। जिसको मुकदमा से अवगत कराकर धारा 41क सीआरपीसी का नोटिस तामिल करने व अपने बयान दर्ज कराने सीओ कार्यालय में आने के लिए बताया। जिसके बाद टांडा चौकी प्रभारी जितेंद्र कुमार टीम के साथ टाण्डा चौराहे पर पहुंचे। जहां दूसरी आरोपी ऊषा भी मिल गई। जिसको नोटिस तामिल करने व बयान के लिए  क्षेत्राधिकारी कार्यालय आने के लिए बताया। पुलिस आरोपियों को मुकदमा के बारे में बताकर क्षेत्राधिकारी कार्यालय की तरफ चलने लगे।

सम्मन की बात से आग बबूला हुई ऊषा ने गाली गलौच करते हुये जितेंद्र कुमार का कालर पकड़ लिया और पैंट-कमीज की जेब फाड़ दी। इस दौरान तारावती भी एसआई जितेन्द्र कुमार की वर्दी पर चिपट गयी। और धक्का-मुक्की करने लगी। जिसके बाद पुलिस दोनों को कोतवाली ले आई।

कोतवाली पुलिस ने एसआई जितेन्द्र कुमार की तहरीर पर सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने,पुलिस कर्मियों के साथ गाली गलौच कर अभद्रता करने का मुकदमा दर्ज कर लिया। कोतवाल मनोज रतूड़ी ने बताया कि एसआई जितेंद्र कुमार की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। दोनों महिलाओं को 41 सीआरपीसी का नोटिस देकर अभी छोड़ दिया गया है।