August 16, 2022 5:38 am

अब पहले की तरह कर सकते हैं आप ट्रेन के जनरल डिब्बे में सफर, नहीं कराना होगा रिजर्वेशन, जानिए कब से लागू हुआ नियम…

नई दिल्ली अगर आप भारतीय रेलवे से यात्रा करते है तो ये जानकारी आपके लिए बहुत जरूरी है. अब आपको किसी भी ट्रेन के जनरल डिब्बों में यात्रा करने के लिए रिजर्वेशन कराने की जरूरत नहीं है. आपको बता दे कि रेल मंत्रालय ने लंबी दूरी वाली सैकड़ों ट्रेनों के जनरल डिब्बों को अनारक्षित कोच बनाने का फैसला बीते फरवरी के अंतिम सप्ताह में ही ले लिया था, लेकिन उस समय कुछ ट्रेनों में 120 दिन आगे के लिए एडवांस टिकट बुक किये जा चुके थे. इसलिए उन ट्रेनों में यह फैसला लागू नहीं हो सका था.

काउंटर टिकट से कर सकते हैं सफर

कोरोना काल से पहले ट्रेनों के जनरल डिब्बों में जिस तरह लोग सिर्फ सामान्य टिकट पर यात्रा करते थे, अब वही प्रकिया फिर से लागू कर दी गई है. आपको बता दें कि जो रेलगाड़ी में यात्रा करते हैं, उन्हें पता होगा कि ट्रेन के जनरल डिब्बों में किस तरह के लोग आते हैं. इनमें अधिकतर यात्री कम दूरी की यात्रा वाले या फिर लंबी दूरी की यात्रा करते हैं. जिन लोगों का यात्रा करने का फैसला अचानक होता है. उस समय तक रिजर्व डिब्बों में नोरूम दिखाने लगने लगता है. ऐसी स्थिति में वे सामान्य टिकट लेकर जनरल कोच में सफर को मजबूर होते हैं. इन डिब्बों में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो रिजर्व क्लास में यात्रा का किराया नहीं दे सकते हैं. जनरल का किराया कम होता है, इसलिए वे इसमें सफर करते है. अब यही यात्री ट्रेन आने से कुछ मिनट पहले भी जनरल टिकट खरीद कर ट्रेन में सफर कर सकेंगे.

सीट नहीं, तो रिजर्वेशन चार्ज नहीं 

रेलवे के जनरल क्लास में टिकट बुक कराने पर रिजर्वेशन चार्ज 15 रु, स्लीपर क्लास में बर्थ बुक कराने पर रिजर्वेशन चार्ज 20 रु, थर्ड एसी में 40 रु, सेकेंड एसी में 50 रु और फ़स्ट एसी में 60 रु का चार्ज है. अब जरनल क्लास में रिजर्वेशन बंद होने से 15 रु का चार्ज नहीं लगेगा.

कोरोना काल में अनिवार्य था रिजर्वेशन 

भारतीय रेलवे ने कोरोना काल में यात्रियों को कोविड़ संक्रमण से बचाने के लिए जनरल डिब्बों को भी आरक्षित कर दिया था. उसके बाद से ही यात्रियों को इन डिब्बों में यात्रा करने के लिए टिकट रिजर्वेशन करवा कर सफर करना पड़ता था.

29 से नियम हुआ लागू 

रेलवे सूत्रों की माने तो बीते फरवरी के अंतिम दिनों में सेकेंड क्लास या जनरल डिब्बों में रिजर्वेशन की बाध्यता खत्म कर दी थी, लेकिन उस समय लंबी दूरी के कुछ ट्रेनों में सेकेंड क्लास में भी टिकट बुक थे. जिसके चलते इन ट्र्रेनों में एडवांस रिजर्वेशन पीरियड की अवधि 120 दिनों की है. इसलिए रेलवे को इतने दिनों तक इंतजार करना पड़ा था. यह अवधि बीते 28 जून 2022 को खत्म हो गई. अब ट्रेनों में जनरल डिब्बों को सामान्य टिकट के लिए खोल दिए है. मतलब कि अब आप ट्रेन आने से पहले भी जनरल टिकट लेकर जा ट्रेन में जा सकते।