August 12, 2022 2:25 am

उत्तराखंड: जारी है कांग्रेस का पतन- “आप” के हुए रतूड़ी और रमन, हरक ने कहा, हरदा की हसरतें कर रहीं हैं युवा उम्मीदों का दहन

देहरादून:  उत्तराखंड कांग्रेस में अन्तर्कलह थमने का नाम नही ले रही है बीते विधानसभा चुनाव से शुरू हुआ गुटबाज़ी और बड़े नेताओं की नजरअंदाजी का नतीजा और पार्टी से नेताओं का पलायन कांग्रेस को करारी हार से चुकाना पड़ा और हार बाद भी पार्टी द्वारा नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश अध्यक्ष बनाने के फैसले पर कांग्रेसियों ने उंगली उठाई और विधायकों समेत कई नेताओं ने बगावती सुर दिखाए नतीजा ये निकला की पार्टी को खटीमा उपचुनाव भी हारना पड़ा और कांग्रेस से एक एक कर कई नेताओं का मोह भंग हो गया आपको बता दें विधानसभा चुनाव के दौरान से अब तक किशोर उपाध्याय, जोत सिंह बिष्ट, आर पी रतूड़ी, कमलेश रमन जैसे कई दिग्गज नेता पार्टी में अपनी अनदेखी और अन्तर्कलह से थककरपार्टी छोड़ चुके हैं । जिसमे से किशोर उपाध्याय बीजेपी से टिकट पाकर बिते विधानसभा चुनाव में जीत भी दर्ज कर चुके हैं। जबकि बाकी नेता आप मे शामिल हो गए हैं।

आपको बता दें हाल ही में कांग्रेस के तीन नेता राजेंद्र प्रसाद रतूड़ी, कमलेश रमन और कुलदीप चौधरी ने आम आदमी पार्टी दामन थामा जिसके बाद विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी से कांग्रेस में आकर खामोश बैठे हरक सिंह रावत ने भी हरकत में आ गये हरक सिंह रावत के आवास पर कांग्रेसी नेताओं का अचानक जमावड़ा लगा और हरक सिंह रावत ने न केवल कांग्रेस संगठन को आड़े हाथ लिया, बल्कि हरीश रावत के बयानों पर भी तीखे वार किए। इस बीच अचानक कांग्रेसी नेताओं का उनके घर पहुंचना राजनीतिक गलियारों में कई चचार्ओं को गर्म कर गया। शाम होते-होते खबर आई कि हरक सिंह रावत के घर पर कई कांग्रेसी नेताओं का जमावड़ा लगा है और वहां कांग्रेस के विधायक और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, विजयपाल सजवाण, राजकुमार, भुवन कापड़ी और लालचंद शर्मा मौजूद हैं माना जा रहा है कि हरक सिंह रावत भी कांग्रेस की कार्यप्रणाली से खुश नहीं हैं। इसीलिए वे फिर पार्टी छोड़ने की स्थिति में हैं। हरक सिंह रावत ने हरीश रावत पर भी निशाना साधते हुए कहा वे उम्र के जिस पड़ाव पर हैं, उसमें उन्हें अपनी उम्र का ख्याल रखना चाहिए। जिस तरह के बयान उनकी तरफ से दिए जाते हैं, उस पर विचार जरूर करना चाहिए।

अब सवाल ये की कांग्रेस में अन्तर्कलह कब ख़त्म होगी, पार्टी से पलायन कैसे रुकेगा? कांग्रेस छोड़ चुके नेताओं की कमी कैसे पूरी होगी? हरक सिंह रावत के साथ कांग्रेस के दिग्गजों की बैठक के मायने क्या हैं? क्या फिर हरक हरकत में आकर पार्टी बदलेंगे? क्या हरक के साथ दूसरी पार्टी में और लोग भी जायँगे ? इसके अलावा भी कई सवाल ऐसे हैं जिनका जवाब सिर्फ कांग्रेस दे सकती है ‘