August 18, 2022 9:37 pm

संसद परिसर में अब धरना-प्रदर्शन पर रोक! कांग्रेस ने किया मोदी सरकार पर कटाक्ष

नई दिल्ली: सोमवार से संसद का मॉनसून सत्र शुरू हो रहा है. लेकिन सत्र से पहले एक निर्देश चर्चा का विषय बना हुआ है. दरअसल, कांग्रेस ने संसद भवन में धरना प्रदर्शन पर रोक के निर्देश को शेयर करते हुए मोदी सरकार पर कटाक्ष किया है. कांग्रेस ने राज्यसभा महासचिव पीसी मोदी के एक नए आदेश को शेयर किया है जिसके मुताबिक संसद सदस्य किसी भी धरने या हड़ताल के लिए संसद भवन के परिसर का इस्तेमाल नहीं कर सकते.

जयराम रमेश ने किया ट्वीट: संसद भवन परिसर में धरने प्रदर्शन पर रोक वाली पोस्ट पर कांग्रेस भड़की हुई है. शेयर किए गए पोस्ट को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद जयराम रमेश ट्वीट किया है. उन्होंने आदेश की कॉपी शेयर करते लिखा है विश्व गुरु का नया काम- D(h)arna Mana Hai. गौरतलब है कि संसद भवन परिसर में धरने पर हड़ताल पर बैठने को लेकर जारी आदेश से कांग्रेस में गुस्सा हैं.

कांग्रेस कर रही है विरोध: गौरतलब है कि संसद का मॉनसून सत्र सोमवार से शुरू हो रहा है. इस सत्र के काफी हंगामेदार रहने के आसार हैं. महंगाई, बेरोजगारी, सेना में भर्ती की अग्निपथ स्कीम जैसे मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश में रहेगी. इन मुद्दों पर पक्ष और विपक्ष में जोरदार तकरार भी देखने को मिल सकती है.

बता दें, इससे पहले असंसदीय शब्दों के प्रयोग को लेकर भी सरकार की ओर से कई शब्दों के इस्तेमाल के लिए मनाही कर दी गई है. सदन में जुमलाजीवी, शकुनि नीति, तानाशाह, जयचंद, खून से खेती समेत कई अन्य शब्दों के प्रयोग पर पाबंदी लगाई है. जिसको लेकर विपक्ष सरकार पर निशाना साध रहा है. वहीं, असंसदीय शब्दों की नई सूची पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि, इस देश में अगर कोई बोलता है कि कोई शब्द असंसदीय है, तो ये मानने की बात नहीं है. उन्होंने कहा कि ये देश देश सभ्य है इसकी सबसे बड़ी ताकत विनम्रता है.