August 18, 2022 10:12 pm

वे मिलें तो वाह-वाह, मैं मिलूं तो कैरेक्‍टर ढीला, योगी से मुलाकात पर ओमप्रकाश राजभर का अखिलेश यादव को जवाब

लखनऊ: सुभासपा चीफ ओमप्रकाश राजभर ने सपा से बढ़ती दूरियों और सीएम योगी आदित्‍यनाथ से मुलाकात को लेकर लग रहे आरोपों का जवाब देते हुए अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव पीएम मोदी और सीएम योगी से मिलें, उन्‍हें फूल का गुलदस्‍ता दें तो ठीक है और हम मिलें तो गलत। वे मिलें तो वाह-वाह, हम मिलें तो कैरेक्‍टर ढीला, ये अब नहीं चलेगा। उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव खुद सीएम योगी से चोरी-चोरी मिलते रहते हैं।

उन्‍होंने कहा कि राष्‍ट्रपति चुनाव में सपा ने न हमसे वोट मांगा न हमें बुलाया। हमें जहां से बुलाया गया, जिसने वोट मांगा उसे दिया है। सुभासपा का गठबंधन सपा से जारी है। अखिलेश यादव जब तक हमें नहीं कहते कि आप अपना देखें, हम अपना तब तक हम सपा के साथ ही रहेंगे। राजभर ने कहा कि अखिलेश यादव यदि गठबंधन से निकालते हैं तो इस बार बसपा से गठबंधन का प्रयास करेंगे। उन्‍होंने कहा कि तब मायावती जी से बात करेंगे।

मुख्‍तार के बेटे की मदद को तैयार 

ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि मुख्‍तार अंसारी के बेटे और विधायक अब्‍बास अंसारी के मुद्दे पर सीएम और एसीएस होम से बातचीत चल रही है। उन्‍होंने कहा कि हम अपने विधायक की मदद कर रहे हैं। गृहमंत्री से भी अब्‍बास के लिए बात की है।

मुसलमानों के लिए बोलने से डरते हैं अखिलेश

उन्‍होंने आरोप लगाया कि अखिलेश यादव को सिर्फ मुसलमानों का वोट चाहिए। वह मुसलमानों के मुद्दों पर बोलने से डरते हैं। उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव ने किसी मुसलमान की मदद नहीं की है।  100 से ज़्यादा उदाहरण मेरे पास है। सुभाषपा अध्यक्ष ओपी राजभर ने कहा कि अखिलेश यादव खुद चोरी चोरी मुख्यमंत्री से भी मिलते हैं। जन्मदिन पर तोहफे देते हैं। मैं अगर मुख्यमंत्री और अमित शाह से मिल लिया तो इसमें क्या बुरा है? उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव खुद चोरी-चोरी मुख्यमंत्री से मिलते हैं तो वाह-वाह और मैं मिलू तो “मेरा करैक्टर ढीला” है।