August 19, 2022 8:33 pm

कोर्ट कार्यालय से फाइल लेकर रोते हुए भागी दुष्कर्म पीड़ित युवती, छत पर पहुँचकर हवा मे लहरा दी फाइल, चीखकर बोली “मुझे न्याय चाहिए”

बरेली: न्याय की आस में मैं कोर्ट के चक्कर लगा रही हूं, दुष्कर्म आरोपित रिजवान खुलेआम घूम रहा है। मुझे जल्द न्याय चाहिए मगर, केस कागजों में दबा है। जज को यह दिखाऊंगी… इतना कहते हुए पीड़ित युवती सोमवार शाम को कोर्ट कार्यालय से फाइल लेकर भाग गई। छत पर पहुंचकर चीखने लगी, फाइल हवा में लहरा दी। कोर्ट कर्मचारियों ने उसे समझाकर शांत किया, इसके बाद लिखित माफीनामा देकर छोड़ दिया गया।

शहर के एक मुहल्ले में रहने वाली युवती से पिछले वर्ष दुष्कर्म हुआ था। मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपित रिजवान की गिरफ्तारी हुई मगर, कुछ समय बाद वह जमानत पर रिहा हो गया। इस बीच पुलिस ने चार्जशीट लगा चुकी थी। प्रकरण की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में चल रही है। आरोपित को सजा दिलाने के लिए पीड़ित अधिवक्ता के संपर्क में रही। उन्हें हर बार जवाब मिलता था कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई चल रही इसलिए जल्द न्याय मिलेगा। पांच बार तारीखों पर आने के बाद पीड़ित का सब्र टूटने लगा। पीड़ित के अनुसार, वह अब ज्यादा चक्कर नहीं लगाना चाहती। जज साहब तक फाइल ही नहीं पहुंचती है, इसलिए फैसले में देरी हो रही है।

सोमवार शाम को वह मां के साथ कोर्ट कार्यालय पहुंची। साथ में अधिवक्ता भी थे। केस की प्रगति देखने के बहाने उन्होंने फाइल निकलवाई, इसके बाद छत पर लेकर भाग गईं। कहा कि यह फाइल जज साहब को दिखाने जा रही हूं, उनसे मांग करूंगी कि आरोपित रिजवान को जल्द सजा दी जाए। वह चीखकर हंगामा करने लगीं, फाइल हवा में लहराकर कागज बिखेर दिए। पीछे से दौड़कर पहुंचे कोर्ट कर्मचारियों ने उन्हें शांत किया। इस तरह फाइल ले जाने की गलती का एहसास कराया, तब उन्होंने लिखित माफी मांगी।