August 18, 2022 10:47 pm

भू-कानून में संशोधन को लेकर उच्च स्तरीय समिति ने तैयार की रिपोर्ट, 23 जुलाई को रिपोर्ट पर होगी अंतिम चर्चा

देहरादून : उत्तराखंड में भू-कानून में संशोधन को लेकर उच्च स्तरीय समिति ने रिपोर्ट तैयार कर ली है। समिति की 23 जुलाई को बैठक में इस रिपोर्ट पर अंतिम चर्चा के बाद इसे सरकार को सौंपने के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। इस माह के आखिर तक रिपोर्ट मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सौंपी जाएगी।

बीते माह भी हो चुकी है समिति की बैठक

प्रदेश में वर्तमान भू-कानून के परीक्षण, अध्ययन और संशोधन के लिए पूर्व मुख्य सचिव सुभाष कुमार की अध्यक्षता में गठित उच्च स्तरीय समिति की अब संभवत: अंतिम बैठक होगी। इससे पहले बीते माह भी समिति की बैठक हो चुकी है।

जिलेवार रिपोर्ट का समिति कर चुकी है परीक्षण

बैठक में प्रदेश में वर्तमान भू-कानून को और सख्त बनाने पर मंथन किया गया था। साथ में प्रदेश में वर्ष 2003 के बाद भू-उपयोग में दी गई छूट से संबंधित जिलेवार रिपोर्ट का समिति परीक्षण कर चुकी है। इस बैठक के बाद समिति भू-कानून को लेकर अपनी रिपोर्ट तैयार कर चुकी है।

भू-कानून के साथ नियमावली बनाने पर भी बल दिया गया

इस रिपोर्ट पर कुछ बिंदुओं पर दोबारा मंथन का निर्णय लिया गया है। दरअसल, समिति भू-कानून के दुरुपयोग को लेकर चर्चा में आए कुछ बिंदुओं पर विचार कर रही है। समिति की ओर से भू-कानून के साथ नियमावली बनाने पर भी बल दिया गया है।

हिमाचल की भांति उत्तराखंड में भू-कानून को लेकर भी होगी चर्चा

साथ में हिमाचल की भांति उत्तराखंड में भू-कानून को लेकर भी समिति के सदस्य चर्चा करेंगे। संपर्क करने पर समिति अध्यक्ष सुभाष कुमार ने कहा कि 23 जुलाई की बैठक में समिति की ओर से तैयार रिपोर्ट पर सभी सदस्य विचार करेंगे। इसके बाद इसे इसी माह के अंत तक मुख्यमंत्री को सौंपा जाएगा।