August 18, 2022 9:55 pm

यहाँ माँ बनने के बाद की जाती है लड़की की शादी, तलाक के लिए होती है पूजा, जानिए कारण…

न्यूज़ डेस्क : दुनियाभर के हर देश में शादी तोड़ने यानी तलाक लेने के नियम कमोबेश एक जैसे ही हैं. जहां कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी डालकर शादी को तोड़ा जा सकता है, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे समुदाय के बारे में बताने जा रहे हैं जहां शादी तोड़ने यानी तलाक लेने के नियम दुनिया में सबसे अलग है. इस समुदाय में लोग तलाक लेने से पहले हजार बार सोचते हैं क्योंकि ये उनके लिए बेहद महंगा सौदा होता है. दरअसल, हम बात कर रहे हैं अपने ही देश के पश्चिम बंगाल अलीपुरद्वार जिले में जलपाईगुड़ी के टोटोपड़ा कस्बे में रहने वाली टोटो जनजाति के बारे में. जहां तलाक लेने के लिए एक विशेष प्रकार की पूजा का आयोजन किया जाता है जिसे बेहद की खर्चीला माना जाता है.

सिर्फ 1600 है टोटो जनजाति की आबादी

भारत की जनसंख्या भले ही तेजी से बढ़ रही हो लेकिन टोटो जनजाति तेजी से कम होती जा रही है. यही वजह है कि टोटो जनजाति अब सिर्फ 1600 लोगों तक ही सीमित रह गई है. को यहां के करीब 8 किलोमीटर के दायरे में बसे हुए हैं. हालांकि सरकार इस समुदाय के लोगों की आबादी बढ़ाने की कोशिशों में जुटी है लेकिन टोटो समुदाय के लोग अपने परिवार को लगातार छोटा कर रहे हैं. भूटान सीमा के नजदीक रहने वाली ये जनजाति प्रकृति की गोद में रहती है.

 लड़कियों के मां बनने के बाद कराई जाती है उनकी शादी

इसके साथ ही टोटो जनजाति में शादी को लेकर भी एक अनोखी रीति निभाई जाती है जो शायद की किसी और जगह पर निभाई जाती हो, दरअसल, टोटो जनजाति में लड़कियो की शादी तब की जाती है जब वह मां बन जाती है. बिना मां बने किसी लड़की की शादी नहीं होती. ये बात भले ही आपको हैरान कर देने वाली लगे लेकिन ये बिल्कुल सच है. इस जनजाति के रिवाज के अनुसार पहले लडका अपनी पसंद की लडकी को भगा कर ले जाता हैं. जिसका कोई विरोध नहीं करता और लडकी एक साल तक लडके के घर में रहती हैं.

एक साल के अंदर बनना पड़ता है लड़की को मां

लड़की को भगाने के बाद वह एक साल तक लड़के के घर में ही रहती है. इस दौरान अगर लड़की गर्भवती हो जाती है तो उसे विवाह के योग्य माना जाता है. अगर वह एक साल के अंदर मां नहीं बनती तो उसकी शादी नहीं की जाती. गर्भवती होने पर लकड़ी को उसी लड़के साथ पवित्र बंधन में बांध दिया जाता है जिसके साथ वह भाग कर गई थी.

तलाक के लिए होती है विशेष पूजा

टोटो जनजाति में जितने शादी के नियम अलग हैं उतने ही तलाक के कायदे भी अजीब हैं. वहां तलाक देने के लिए एक विशेष तरह की पूजा का आयोजन किया जाता हैं जो बहुत खर्चीली होती हैं. इसलिए वहां शादी तोडने से पहले लड़के को हजार बार सोचना पड़ता है.