August 18, 2022 10:39 pm

“लुलु मॉल” पर आज़म का ये जवाब आपकी छुटा देगा हंसी, सवाल पूछकर मीडिया भी फंसी ! सुनिए आज़म का “लोलो” वाला बयान : VIDEO

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बना लुलु मॉल लगातार चर्चा का विषय बना हुआ है। बीते 10 जुलाई को सीएम योगी के हाथों उद्घाटन होने के 3 दिन बाद जहां मॉल में नमाज पढ़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, वहीं, उत्तर प्रदेश से लेकर पूरे देश में लखनऊ के इस लुलु मॉल की चर्चाएं तेज हो गईं। अब इस मॉल को लेकर छिड़े नमाजी विवाद पर जब सपा के वरिष्ठ नेता आजम खां से सवाल किया गया तो वे एक बार फिर अपने पुराने अंदाज में नजर आए और इसी अंदाज के साथ उन्होंने ऐसा जवाब दिया कि मीडिया वाले दंग रह गए और आज़म को छोड़कर निकल लिए । आज़म ने कहा कि ‘अमा हमने न लुलु देखा न लोलो देखा है’। आजम खां का ये बयान सोशल मीडिया पर तेजी के साथ वायरल हो रहा है, जिसे लेकर लोग अलग अलग टिप्पणियां कर रहे हैं।

आजम खां बोले- अमा हमने न लुलु देखा न लोलो देखा

गुरुवार को यूपी के जिले मुरादाबाद में मीडिया की ओर से जब लुलु मॉल को लेकर चल रहे विवाद के बीच आजम खां से उनकी राय पूछी गई तो उन्होंने लुलु मॉल से जुड़े सवाल पर कहा कि  ‘अमा हमने न लुलु देखा न लोलो देखा है। हम आज तक किसी मॉल में गए ही नहीं। जो लोग जानते हैं उनसे पूछिए लुलु, लोलो, टुलु, टोलो। क्या मतलब है और कोई काम ही नहीं है’। आजम खां की ओर से जेल से छूटकर आने के बाद मॉल को लेकर की गई इस टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी के साथ सुर्खियां बटोर रहा है।

मॉल के भीतर नमाज पढ़ने का वीडियो हुआ था वायरल

लुलु मॉल लखनऊ में खुलने के बाद से ही चर्चा में है। बीते 10 जुलाई को सीएम योगी ने ही इसका उद्घाटन किया था और  उद्घाटन के तीन दिन बाद ही 13 जुलाई को लुलु मॉल का एक वीडियो वायरल हो गया। वीडियो में कुछ लोग मॉल के अंदर नमाज पढ़ रहे थे। जिसे लेकर हिंदू सगठनों ने नाराजगी जताई और इसका भारी विरोध करने का ऐलान किया। सोशल मीडिया से लेकर सड़कों पर हो रहे विरोध के बाद लुलु मॉल के प्रशासन को नोटिस लगाने पड़े थे कि मॉल में पूजा या नमाज की इजाजत नहीं है। इतना ही नहीं, उन्हे जारी की गई नोटिस में यह भी बताना पड़ा कि मॉल में काम करने वाले 80 फीसदी कर्मचारी हिंदू हैं।

मॉल में नमाज पढ़ कर माहौल खराब करने वाले 4 आरोपी हुए थे गिरफ्तार

आपको बताते चलें कि भारी विरोध के बाद एक्टिव मोड में आई उत्तर प्रदेश पुलिस ने लुलु मॉल में अनधिकृत रूप से नमाज पढ़ने वाले चार आरोपियों को बीते मंगलवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया था। जबकि चार अन्य की तलाश की जा रही है। गिरफ्तारी के बाद मॉल में शुद्धिकरण के उद्देश्य से  घुसने का प्रयास कर रहे अयोध्या के महंत परमहंस को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इतना ही नहीं, सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लखनऊ प्रशासन को बहुत गंभीरता से इसे लेना चाहिए और इस प्रकार की किसी भी शरारत को स्वीकार नहीं करना चाहिए। उसे ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटना चाहिए जो अनावश्यक मामलों को बढ़ावा देकर माहौल खराब करने का प्रयास करते हैं।