May 27, 2022 7:59 am

नेता प्रतिपक्ष मिलने के बाद कांग्रेसियों मे जोश, चुनावी मोड मे आए नेता

देहरादून: उत्तराखंड को आखिरकार डेढ़ माह बाद नेता प्रतिपक्ष के रूप में प्रीतम सिंह मिला गया। समर्थकों की मौजूदगी में कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने सोमवार को विधानसभा में कार्यभार ग्रहण किया। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव-2022 में कांग्रेस पार्टी पुन: वापसी करते हुए उत्तराखंड में सरकार बनाएगी। अपनी प्राथमिकताएं गिनाते हुए सिंह ने कहा कि प्रदेश में इस बार कांग्रेस सरकार बनाकर पारदर्शिता से कार्य करेगी।

कार्यभार ग्रहण करने के बाद प्रीतम सिंह अपने विधानसभा क्षेत्र का दौरा करेंगे। पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलकर सिंह उनमें जोश भरने की पूरी कोशिश करेंगे।आपको बता दें कि डॉ. इंदिरा हृदयेश के निधन के बाद से नेता प्रतिपक्ष का पद 13 जून से खाली चल रहा था। पार्टी हाईकमान के ग्रीन सिग्नल के बाद सिंह को उत्तराखंड में नेता प्रतिपक्ष की कमान सौंपी गई है। वहीं, उत्तराखंड में प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन के साथ ही कांग्रेस इलेक्शन मोड में है। 27 जुलाई को नए प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल को विधिवत पदभार ग्रहण कराने के 24 घंटे के भीतर चुनावी रणनीति का ऐलान भी कर दिया जाएगा।

प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव ने गोदियाल की ताजपोशी के अगले ही दिन सभी कार्यकारी अध्यक्ष, नवगठित सभी कमेटियों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और संयोजकों को दून बुला लिया है। सभी के साथ बैठक कर चुनाव के लिए कमर कसने के निर्देश दिए जाएंगे। सभी कमेटियों को कुछ टारगेट देते हुए समयबद्ध कार्यक्रम भी दिया जाएगा। नवनियुक्त वरिष्ठ प्रदेश प्रवक्ता काजी निजामुद्दीन के अनुसार 28 की बैठक में सभी पहलुओं पर चर्चा की जाएगी। प्रदेश की जनता बड़ी उम्मीदों के साथ कांग्रेस की ओर देख रही है।

प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव का कहना है कि शीर्ष नेतृत्व ने काफी विचार मंथन के बाद सभी कमेटियों का गठन किया है। कमेटियों को जिम्मेदारी के अनुसार काम शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।  वहीं, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के कार्यभार ग्रहण की तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं। कांग्रेस में नेतृत्व परिवर्तन के बाद कार्यकर्ताओं में जोश भरा हुआ है। गुटबाजी को पीछे छोड़ते हुए कांग्रेस उत्तराखंड में पुन: सरकार बनाने पर फाेकस करने में लगी हुई है।