May 27, 2022 7:39 am

टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचने वाली हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया को ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी ने दिया 11 लाख का पुरस्कार

देहरादून: टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचने वाली महिला हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया आज बुधवार को उत्तराखंड पहुंच गईं। जौलीग्रांट एयरपोर्ट में वंदना का गाजे-बाजे के साथ भव्य स्वागत हुआ। यहां से वह हरिद्वार स्थित अपने गांव पहुंचीं। तीर्थनगरी हरिद्वार की बेटी और हॉकी की राष्ट्रीय खिलाड़ी वंदना कटारिया ने घर पहुंच कर कहा कि मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। हम लोग मेडल के बहुत नजदीक थे , मेडल नहीं जीत पाए। लेकिन हमने भारत में लोगों का दिल जीता है।

ग्राफिक एरा ने दिया 11 लाख का पुरस्कार

इसके बाद वंदना देहरादून स्थित ग्राफिक एरा विश्विद्यालय पहुंचीं। ग्राफिक एरा में उनका जोरदार स्वागत हुआ। ढोल-नगाड़ों की धुन में विवि के शिक्षक और छात्रों ने वंदना का स्वागत किया। यहां उनके सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किया गया है। साथ ही उन्हें विश्वविद्यालय की ओर से 11 लाख की धनराशि का चेक भी सौंपा जाएगा। वंदना ने कहा कि देशवासियों का इतना प्यार देखकर बहुत खुशी मिल रही है। सोचा नहीं था कि इतना प्यार मिलेगा। इस प्यार और सम्मान से देश के लिए खेलने का प्रोत्साहन मिला है। देश के लिए हॉकी खेलने के लिए बहुत संघर्ष किया है। उस संघर्ष का ही फल है कि आज मैं अंतरराष्ट्रीय मंच पर देश के लिए खेली और हमारी टीम ने शानदार प्रदर्शन किया। वंदना के साथ परिवार के लोग भी दून आए हैं। बड़ा भाई सौरभ कटारिया, तीन बहनें और अन्य रिश्तेदार भी उनके साथ हैं।


इससे पहले हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया का जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर लोगों ने जमकर स्वागत किया। यहां पर काफी संख्या में लोग उनका स्वागत करने के लिए मौजूद रहे। इस दौरान विधायक देशराज कर्णवाल, ऋषिकेश अनीता मंमगाई, संयुक्त निदेशक खेल बीपी भट्ट और जिला क्रीड़ा अधिकारी हरिद्वार सुनील डोभाल समेत काफी संख्या में लोग स्वागत करने के लिए मौजूद रहे। गाजे-बाजे से साथ वंदना का स्वागत किया गया। यहां से वंदना का काफिला हरिद्वार के लिए रवाना हो गया।

हरिद्वार पहुंचने पर चंद्राचार्य चौक पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने वंदना को फूलों का गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया। कौशिक ने वंदना को शुभकामनाएं और बधाई दी। मदन कौशिक ने कहा कि वंदना कटारिया ने आज हरिद्वार का नाम पूरे विश्व में रोशन किया है। हरिद्वार को लोग हॉकी खिलाड़ी वंदना के नाम से ही जान रहे हैं। यह हम सब के लिए गर्व की बात है।

फिर से दिल्ली लौट जाएंगी वंदना

जौलीग्रांट से वंदना कटारिया सीधे रोशनाबाद स्थित स्पोर्ट्स स्टेडियम पहुंची। जहां वंदना कटारिया का जोरदार स्वागत किया गया। यहां उनका खेल विभाग के अधिकारियों और हॉकी खिलाड़ियों की ओर सम्मान किया गया। स्टेडियम से वंदना अपने गांव पहुंचीं और मां के देखकर भावुक हो गईं। बताया गया कि वंदना दो दिन तक हरिद्वार में ही रहेंगी और उसके बाद कई कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए दिल्ली रवाना हो जाएंगी। रोशनबाद गांव निवासी भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी वंदना कटारिया ने टोक्यो ओलंपिक में हैट्रिक लगाकर इतिहास रच दिया। तब से वंदना कटारिया के हरिद्वार पहुंचने का इंतजार हो रहा था। वंदना सुबह 9:30 बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर एयर इंडिया के विमान से पहुंचीं। जिला क्रीड़ा अधिकारी एसके डोभाल ने बताया कि स्वागत समारोह के बाद वंदना अपने घर चलीं गईं। वंदना कटारिया ने फोन पर वार्ता में बताया कि 14 अगस्त से दिल्ली में प्रस्तावित कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए वह फिर से दिल्ली लौट जाएंगी।