May 18, 2022 11:29 am

हरदा ने खेला रोजगार गारंटी कार्ड, Twitter पर नंबर साझा कर युवाओं से की ये अपील

देहरादून: उत्तराखंड में अगले विधानसभा चुनाव को अब महज छह-सात महीने का ही समय शेष है. सूबे में व्यापक जनाधार रखने वाले दोनों ही दल, बीजेपी और कांग्रेस चुनाव मैदान में जाने को कमर कस चुके हैं. ऐसे में सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत  ने एक बार फिर से रोजगार गारंटी कार्ड का दांव खेला है.

2017 चुनाव के पहले उनके द्वारा रोजगार गारंटी कार्ड बांटे गए

पूर्व सीएम हरीश रावत का कहना है कि 2017 में चुनाव के पहले उनके द्वारा रोजगार गारंटी कार्ड बांटे गए थे और बहुत से युवाओं ने वह कार्ड भरे थे. अब पूर्व सीएम हरीश रावत ने उन युवाओं से अपील की है जिन्होंने गारंटी कार्ड भरे. उन्होंने कहा कि वह अपनी पूरी जानकारी वापस उन्हें भेजें ताकि सभी को सूचीबद्ध करके 2022 में वापस राज्य में कांग्रेस की सरकार आने की स्थिति में एक प्राथमिकता रजिस्टर मान करके उनकी रोजगार की व्यवस्था सुनिश्चित की जा सके.

न्याय योजना के तहत बेरोजगारी भत्ता

हरदा ने कहा कि ट्वीटर पर एक नंबर दिया गया है. उस दिए गए नंबर पर जानकारी भरें. हरीश रावत ने कहा कि जिनके रोजगार कि व्यवस्था नहीं हो पाएगी उनको न्याय योजना के तहत बेरोजगारी भत्ता मिले उसको सुनिश्चित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि मैंने ट्वीटर पर एक नंबर दिया है उसे याद रखें और उस नंबर पर मुझसे संपर्क करें और बांछित जानकारी दें.

सभी पार्टियां दांव आजमा रहीं

दरअसल विधानसभा चुनाव से पहले सभी अपने अपने दांव आजमा रहे हैं. कोई मुफ्त बिजली का गारंटी कार्ड बांट रहा है तो कोई रोजगार की गारंटी कार्ड.दरअसल हरीश रावत बखूबी जानते हैं कि मौजूदा सरकार के पास चुनाव में जाने से पहले जितना वक्त है उस दौरान ज्यादा संख्या में बेरोजगार युवाओं को रोजगार मुहैया करवाना सरकार के लिए पहाड़ जैसी चुनौती है. ऐसे में मौका देखकर हरदा ने भी एक दांव खेल दिया है.