May 16, 2022 11:15 am

देश के लिए खाई गोलियां, उत्तराखंड नवनिर्माण के लिए गालियां खाने से परहेज नहीं-कर्नल अजय कोठियाल, वरिष्ट नेता ‘‘आप”

देहरादून: आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और पार्टी के वरिष्ठ नेता कर्नल अजय कोठियाल ने आज प्रदेश कार्यालय में एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कल के दिन को महत्वपूर्ण दिन बताते हुए ,आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी का आभार  जताया। उन्होंने कहा, आप पार्टी ने उन्हें बहुत बडी जिम्मेदारी से नवाजा है ,जिससे राज्य के प्रति उनकी जिम्मेदारियां और बढ गई हैं। उन्होंने कहा कि सीएम प्रत्याशी बनने पर  उन्हें प्रदेश की जनता ने जो प्यार दिया है उसके लिए वो पूरे प्रदेश की जनता के शुक्रगुजार हैं। कल का दिन उनकी जिन्दगी में बहुत महत्वपूर्ण दिन था ,जब उनको इतनी बडी जिम्मेदारी के साथ जनता का प्यार मिला। उन्होंने बताया कि उनको मिली जिम्मेदारी को वो पूरी कर्तव्यनिष्ठा से निभाएगे और उत्तराखंड नवनिर्माण के सपनों को पूरा करने में कोई कोर कसर नहीं छोडेंगे।

उन्होंने आगे कहा कि, इस प्रदेश में दो  मुख्य राजनैतिक दल हैं जो यहां बराबर सत्ता में काबिज रहीं, लेकिन बीजेपी से लोगों का भरोसा उठने लगा है ,सब बीजेपी से नाखुश हैं तो दूसरी ओर कांग्रेस में आपसी खींचतान है ,जिनसे अब जनता पूरी तरह ऊब चुकी है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में जो सफल मॉडल धरातल पर उतारे वही सफल मॉडल सरकार बनते ही उत्तराखंड में भी लागू किए जाएंगे। सीएम प्रत्याशी बनने के बाद विपक्ष के कटाक्ष पर भी उन्होंने कहा, कि फौज में रहते हुए उन्होंने देश सेवा के लिए  गोलियां खाई और अब उत्तराखंड नवनिर्माण के लिए गालियां भी पड़े तो वो  किसी भी कीमत पर  पीछे नहीं हटेंगे। उत्तराखंड नवनिर्माण का संकल्प पूरी कर्तव्यनिष्ठा से निभाएंगे। उन्होंने कहा कि जिस राज्य का सपना उत्तराखंड की जनता ने 20 सालों पहले देखा था वो सपना आज तक पूरा नहीं हो पाया है और अब उस सपने को पूरा करने के लिए आप पार्टी युद्ध लडेगी।

उन्होंने आगे कहा कि, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने देवभूमि को आध्यात्मिक राजधानी बनाने की जो बात कही ,आप पार्टी उस  सपने को जरुर पूरा करेगी। इससे उत्तराखंड को ना सिर्फ देश में बल्कि पूरी दुनिया में नई पहचान मिलेगी। उन्होंने कहा उत्तराखंड एक हिमालयी राज्य है और अकसर हिमालय लोगों को अपनी ओर आकर्पित करता है और अगर यहां आध्यात्मिक राजधानी बनेगी तो यहां सैकडों लोग खिंचे चले आएंगे और उत्तराखंड का नाम देश नहीं बल्कि पूरी दुनिया में रौशन होगा। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड नव निर्माण संकल्प को लेकर वो और उनकी पार्टी लगातार काम करती रहेगी और आखिर में उन्होंने युवाओं, महिलाओं और उत्तराखंड की जनता से अपील करते हुए नवनिर्माण के लिए उनका साथ देने और आगे आने का आव्हान भी किया ।