May 27, 2022 8:13 am

80000 कर्मचारियों की मांग, राजनीतिक पार्टियां अपने घोषणापत्र मे रखें पुरानी पेंशन बहाली का मुद्दा, वरना होगा आंदोलन – जीतमणी पैन्यूली

मसूरी: पुरानी पेंशन बहाली को लेकर पुरानी पेंशन बहाली राष्ट्रीय आंदोलन उत्तराखंड के अध्यक्ष जीतमणी पैन्यूली द्वारा एक पत्रकार वार्ता में बताया कि राज्य में लगभग 80000 कर्मचारी पुरानी पेंशन योजना को लेकर एकजुट हो चुके हैं और आने वाले 2022 के चुनाव में मांग की जा रही है कि राजनीति पार्टियां अपने घोषणापत्र में इस को प्रमुखता के साथ रखें  साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य के 80 हजार परिवार को इसका लाभ मिलेगा  उन्होंने बताया कि पूरी उम्र सरकारी सेवा करने के बाद कर्मचारी वर्ग अपने जीवन यापन के लिए पुरानी पेंशन लाभकारी ही नहीं बल्कि उनकी जरूरत है। समिति के प्रवक्ता सूर्य सिंह पंवार ने बताया कि वे लगातार राजनेताओं के संपर्क में है और अपनी मांग को लेकर पूरे प्रदेश में भ्रमण कर रहे हैं उन्होंने बताया कि लगभग चालीस हजार कर्मचारियों का उन्हें समर्थन मिल चुका है और और सभी कर्मचारियों इसमें शामिल कर दिया जाएगा,,पँवार ने जोर देकर कहा कि  राजनीति दलों के कई लोगो विधायक औऱ सांसद की दो दो पेंशन ले रहे हैं लेकिन कर्मचारियों के साथ यह सौतेला रवैयाः  क्यों ?

कर्मचारी जीवन भर सरकार की सेवा कार्यो में लगा रहता है औऱ जीवन के  अंतिम समय जब वह सेवा निवर्त होता है , औऱ सबसे ज्यादा  सामाजिक कार्य भी उनको उस वक्त करने होते हैं ,,बच्चों की शादी ,   या घर बनाना ,हो  बुढापे में अपना शरीर भी साथ ठीक से नही देता , पति पत्नी के दवाइयों का खर्चा  सब पेंशन पर ही निर्भर   रहता है उस वक्त उसके हाथ  इस सरकार की नीतियो के कारण खाली है ,,  जिस पर सरकार को पुनर्विचार करना   चाहिए ,  अगर सरकार उनकी मांग नही मानती तो , सितंबर माह से   संघठन  एक बड़ा जन आंदोलन  खड़ा करेगा , साथ ही आने वाले विधानसभा सभा चुनाव में भी इसका  असर दिखाई देगा क्यों कि जब जब  सरकार ने कर्मचारियों की अनदेखी की है ,तब तब उसका ब्यासपक असर चुनाव के नतीजों पर पड़ा है उत्तराखण्ड में कर्मचारियों के अस्सी हजार परिवारों की अनदेखी कर कोई भी सरकार सत्ता में नही आ सकती ,फिर इतने  परिवारों के नाते रिश्तेदार भी तो है , जो सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ उठ खड़े होंगे, इस मौके पर    संघठन  के अध्यक्ष, जितमणि पैन्यूली, महामंत्री , मुकेश  रतूड़ी , कोषाध्यक्ष शांतनु शर्मा , प्रदेश प्रवक्ता सूर्य सिंह पंवार  मीडिया प्रभारी, मनोज अवस्थी ,,जगमोहन सिंह रावत चीयर मैंन संघर्ष समिति उपस्थित रहे।