May 16, 2022 5:33 pm

विधान सभा सत्र – पुलिस भी चौकन्नी, 7 एएसपी, 13 डीएसपी, 17 इंस्पेक्टर-एसएचओ, 96 सब इंस्पेक्टर, सहित भारी फोर्स तैनात

देहरादून : राज्य विधानसभा के सत्र के लिए एक ओर जहां सत्तापक्ष और विपक्ष अपने-अपने एजेंडे के साथ तैयार हैं, वहीं दूसरी ओर सदन के बाहर शांति और व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस ने विधानसभा के आसपास सुरक्षा व्यवस्था को चौक चौबंद कर दिया है। विधानसभा सत्र के दौरान 500 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे, जबकि पीएसी की दो कंपनियों को भी सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। किसी भी विपरीत परिस्थिति से निपटने के लिए आंसू गैस और फायर टेंडर की भी व्यवस्था की गई है। रिस्पना पुल के आसपास इस दौरान रूट भी डायवर्ट रहेगा।

एसएसपी की ब्रीफिंग

विधानसभा के दौरान कानून व्यवस्थाए के मद्देनजर एसएसपी डॉ। योगेन्द्र रावत ने पुलिस लाइन में ब्रीफिंग की। एसएपपी ने कहा कि सभी अधिकारी और कर्मचारी टाइम से 2 घंटा पहले तैनाती की जगह पर पहुंच जाएं। सभी को अपने अधिकार व कर्तव्यों के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। ड्यूटी के दौरान आचरण संयमित रखें। किसी भी तरह की गैर जरूरी टिप्पणी न करें। कोई भी समस्या अपने इंचार्ज को जानकारी दें।

आसपास तलाशी अभियान

विधानसभा स्थल के आस-पास के सभी होटल, पानी की टंकी व मोबाइल टावरों पर पुलिस बारीकी से नजर रखे हुए है। विधानसभा की तरफ आने-जाने वाले रास्तों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। सत्र के दौरान केवल अधिकृत लोगों और पास वालों व उनके वाहनों को ही अन्दर जाने की अनुमति दी जाएगी। विधानसभा तिराहे से डिफेंस कालोनी बैरियर तक रोड पर किसी भी वाहन को खड़ा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। रिस्पना पुल व अन्य बैरियरों पर नियुक्त सभी अधिकार और कर्मचारी हेलमेट व बॉडी प्रोटेक्टर के साथ तैनात रहेंगे।

जुलूस-प्रदर्शन पर भी नजर

पुलिस कर्मियों को जुलूस-प्रदर्शन में शामिल लोगों में कड़ी नजर रखने के लिए कहा गया है। यह भी हिदायत दी गई है कि जुलूस-प्रदर्शन में शामिल कोई भी व्यक्ति बैरियर पार कर विधान सभा के निकट न पहुंचने पाए। सभी अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वह अपने अधीनस्थ नियुक्त किये गये पुलिस बल से सामंजस्य बनाए रखें। किसी भी घटना के घटित होने पर उसकी वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी करें।

संयम बनाये रखने की अपील

सत्र के दौरान ड्यूटी ड्यूटी पर तैनात सभी पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को सख्त हिदायत दी गई है कि वे आचरण संयमित रखते हुए प्रोफेशनल तरीके और सतर्कता के साथ ड्यूटी करें। ड्यूटी के दौरान लापरवाही व आचरण को लेकर किसी भी प्रकार कि शिकायत मिलने पर संबंधित अधिकारी अथवा कर्मचारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सत्र के दौरान तैनात फोर्स

एएसपी 07

डीएसपी 13

इंस्पेक्टर-एसएचओ 17

सब इंस्पेक्टर 96

महिला सब इंस्पेक्टर 10

हेड कांस्टेबल 07

कांस्टेबल 236

महिला कांस्टेबल 56

टीयर गैस पार्टी 03

पीएसी कंपनी 02

फायर टेंडर 05

कयूआरटी 02

गार्ड 05