May 21, 2022 2:13 am

आपके आधार कार्ड से कितने मोबाइल नंबर किए गए जारी, ऐसे मिलेगी जानकारी, पढ़िये ये खबर  

न्यूज़ डेस्क: कोरोना काल में आम आदमी की आमदनी पर भले ही ग्रहण लग गया हो, लेकिन महामारी के इस दौर में साइबर अपराधी और ऑनलाइन ठगों की जोरदार चकल्लस है. लोगों की गाढ़ी कमाई पर डाका डालने के लिए ऐसे साइबर अपराधी अनेक तरह के हथकंडे अख्तियार करते हैं.

खबर है कि इन दिनों साइबर अपराधी किसी भी व्यक्ति के आधार नंबर के जरिए मोबाइल सिम जारी करवा के ठगी का धंधा कर रहे हैं. लेकिन, इससे घबराने की जरूरत नहीं है. दूरसंचार विभाग ने साइबर अपराधियों और ऑनलाइन ठगों पर नकेल कसने की तैयारी कर ली है. अब आप टैफकॉप के जरिए बस एक क्लिक के जरिए जान जाएंगे कि आपके आधार नंबर से कितने मोबाइल सिम जारी किए गए हैं.

डीओटी ने की नए पोर्टल की शुरुआत

दरअसल, साइबर अपराधी और ऑनलाइन ठगों पर नकेल कसने के लिए दूरसंचार विभाग (डीओटी) ने टेलीकॉम एनालिटिक्स फॉर फ्रॉड मैनेजमेंट एंड कंज्यूमर प्रोटेक्शन (टैफकॉप) नाम से एक पोर्टल की शुरुआत की है. इसके जरिए कोई भी आदमी एक क्लिक में यह जानकारी हासिल कर सकते हैं कि उनके आधार नंबर पर कितने मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड है. इतना ही नहीं, इसके जरिए उन नंबरों का पता लगाया जा सकता है, जो नंबर किसी के नहीं हैं या जिसका कोई इस्तेमाल नहीं कर रहा है. ऐसे नंबरों को बंद भी किया जा सकता है.

ऑनलाइन ठगी और साइबर अपराध में आएगी कमी

दूरसंचार विभाग के नए पोर्टल टैफकॉप के जरिए साइबर अपराध और ऑनलाइन ठगी में कमी आने की संभावना जाहिर की जा रही है. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है, क्योंकि फर्जी मोबाइल सिम के जरिए ऑनलाइन ठगी ही नहीं, बल्कि गंभीर अपराधों को भी अंजाम दिया जाता है. इस सुविधा के आने बाद से आसानी से अपनी आईडी पर दर्ज सिम की जानकारी हासिल किया जा सकता है. इससे ऑनलाइन ठगी पर रोक लगेगी, क्योंकि ऑनलाइन ठग हमेशा फर्जी आईडी का ही इस्तेमाल करते हैं. जानकारी के अनुसार, फिलहाल इस सुविधा का इस्तेमाल केवल तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के यूजर्स ही कर सकते हैं. हालांकि, इसमें अन्य शहरों के भी नंबर चेक किए जा सकते हैं.

ऐसे हासिल कर सकते हैं जारी सिम की जानकारी

  • सबसे पहले आपको अपने ब्राउजर पर इस लिंक https://tafcop.dgtelecom.gov.in/index.php को खोलना होगा.
  • एक साइट खुलेगी. इसके बाद आपको अपना 10 अंकों का मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा.
  • फिर आपके रजिस्टर्ड नंबर पर एक ओटीपी आएगा, जिसे साइट पर लिखने के बाद एक नया इंटरफेस खुल जाएगा.
  • वहां आपको वो सभी नंबर दिखने लगेंगे, जो आपके आधार नंबर से रजिस्टर्ड हैं.
  • उनमें जिन नंबरों को आप ब्लॉक करना चाहते हैं, उनको सलेक्ट करके आप उन्हें ब्लॉक भी कर सकते हैं.