May 21, 2022 1:43 am

टिहरी-उत्तरकाशी को जोड़ने वाला मार्ग क्षतिग्रस्त, मसूरी-देहरादून रोड़ पर लग गया लंबा जाम

मसूरी: पहाड़ों में हो रही लगातार बारिश गिरते पहाड़ नदियों का बढ़ता जलस्तर, टूटती सड़कें बहते पुल 2013 में आई भीषण आपदा की याद दिलाती हैं।  ऐसे में आम लोग डर के साए में हैं और किसी अनहोनी की आशंका का डर लगा लोगों के दिल मे है। मसूरी- देहरादून मार्ग पर गलोगी  पावर हाउस के पास भूस्खलन होने से मीलो लंबा जाम लग गया जिससे स्थानीय लोगों के साथ- साथ पर्यटकों के वाहन भी फंसे रहे। पहाड़ों से लगातार पत्थर और मलवा आने से जान-माल का खतरा बना हुआ है। पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला ने कहा कि मसूरी देहरादून मार्ग के अलावा वैकल्पिक मार्ग की भी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में किमाड़ी मोटर मार्ग का निर्माण करवाया गया था जो आज रखरखाव के अभाव में खस्ताहाल हो चुका है और जिसकी मरम्मत के लिए अभी तक कोई संतोष जनक कार्य नहीं किया गया ।

प्रांतीय खण्ड  देहरादून के अधिशासी अभियंता डीसी नौटियाल के मुताबिक किमाड़ी मसूरी मार्ग भारी बारिश के चलते कई जगह पर बाधित हो गया है।  उस मार्ग पर भी लगतार दो जेसीबी मशीनें चल रही है  मार्ग को  आवाजाही लायक खोल दिया गया है।  मसूरी देहरादून  मार्ग पर इस वक्त  पर्यटन सीजन से भी ज्यादा  वाहनों की भीड़ बढ़ गई है।  रानी पोखरी पुल टूटने से औऱ मालदेवता कुमालड़ा के पास मार्ग छतिग्रस्त होने से, टिहरी, उत्तरकाशी,  धनोल्टी, नैन बाग, थत्यूड़, भवान, जाने वाले लोगो के लिए एक मात्र मसूरी देहरादून मार्ग रह गया है। भारी बारिश के कारण गलोगी के पास भी लगातार भूस्खलन हो रहा है। हालांकि विभाग ने दो जेसीबी  मशीन मार्ग खोलने के लिए वहाँ पर लगाई है लेकिन बारिश के  चलते मार्ग को खोलने में  दिक्कतें आ रही है। ट्राफिक का दबाव ज्यादा होने से मार्ग को खोलने में अगर आधा घँटा ट्रैफिक को रोकना पड़ रहा है। जिसके कारण सड़क पर लम्बा जाम लग रहा है फिर भी   विभाग पूरी मुस्तैदी से जुटा हुआ है। बारिश में रात के समय मे काम नही हो पा रहा है  क्यों कि ऊपर से बड़े बड़े बोल्डर औऱ मलवा आने का भय लगतार बना हुआ है। इस सम्बंध में अधिशासी अभियंता लगतार टिहरी, उत्तरकाशी के उच्चाधिकारियों के सम्पर्क  बनाए हुए हैं  अधिकारी लगातार मसूरी देहरादून मार्ग की वस्तुस्थिति के बारे में  अपडेट कर रहे हैं। मौसम अगर साथ दे तो जल्द ही समस्या का समाधान हो जाएगा ।

वही गुजरात से आए पर्यटक ने बताया कि वह लगभग 1 घंटे से जाम में फंसे हुए हैं उन्हें बताया गया है कि पहाड़ी से लगातार मलबा आने के कारण यातायात रोका गया है॰  उन्होंने पुलिस कर्मियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन लगातार घटना पर नजर बनाए हुए हैं और पर्यटकों के सुविधा को देखते हुए कार्य कर रही है। दिल्ली से आए पर्यटक ने बताया कि बरसात के समय पहाड़ों में लगातार पत्थर और पहाड़ी गिरने का भय बना होता है लेकिन प्रशासन पूरी तरह से काम कर रहा है और मार्ग को यातायात के लिए खोला जा रहा है।

 

रिपोर्टर- उपेन्द्र लेखवार मसूरी ,