May 21, 2022 1:38 am

“आप” की मांग: अवैध नियुक्ति मामले में इस्तीफा दें धन सिंह रावत, आप कार्यकर्ताओं ने किया 70 विधानसभाओं में प्रदर्शन 

देहरादून: उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में हुई अवैध नियुक्तियां और बीजेपी ,आरएसएस समेत मुक्त विश्वविद्यायल के कुलपति के चहेतों को सरकारी नौकरी देने के विरोध में आज आम आदमी पार्टी ने प्रदेश की सभी 70 विधानसभाओं में प्रदर्शन करते हुए उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत का पुतला फूंका और कुलपति को बर्खास्त करने समेत उच्च शिक्षा मंत्री, धन सिंह रावत का इस्तीफा मांगा । राजधानी देहरादून में भी हर विधानसभा में आप कार्यकर्ताओं ने उच्च शिक्षा मंत्री के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए उनका पुतला दहन किया। रायपुर,राजपुर,सहसपुर,डोईवाला समेत धर्मपुर विधानसभा में आप कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया  । आप प्रदेश उपाध्यक्ष विशाल चौधरी ने उच्च शिक्षा मंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में  अपने चहेतों के साथ साथ आरएसएस ,पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और वहां के कुलपति के करीबियों को अवैध रुप से नियुक्त करवाया।

वहीं आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने कहा, उत्तराखंड पूरे देश में बेरोजगारी के आंकडों में पहले स्थान पर है,जो बीजेपी की देन है और ये आंकडे पूरे प्रदेश को शर्मसार करते हैं।  ऐसे में बेरोजगारों को नौकरी देने के बजाय ये सरकार और उसके मंत्री बेरोजगारों के हक पर डाका डालने का काम कर रहे हैं,और अपने करीबियों को सरकारी नौकरियों का लाभ पहुंचा रहे हैं।  वहीं आप प्रवक्ता नवीन पीरशली ने  प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी से मांग करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री इस पूरे मामले का संज्ञान लें और तत्काल प्रभाव से धन सिंह रावत से इस्तीफा लें ,और अगर सरकार उन्हें मंत्रीमंडल से बाहर नहीं करती है ,तो आप पार्टी पूरे प्रदेश में जनता के बीच जाकर इनकी करतूतों का पर्दाफाश करेगी और इनके खिलाफ बडा जनांदोलन करेगी।

इस दौरान अलग अलग विधानसभाओं में पूरे प्रदेश में आप कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन करने वालों में आप उपाध्यक्ष विशाल चौधरी, रजिया बेग, नवीन पिरशाली, रविन्द्र आनंद, उमा सिसौदिया, अशोक सेमवाल, शरद जैन, राजेन्द्र सिंह, रवि बांगिया, सुशील सैनी, बबलू चौधरी, राजेश शर्मा,  आरती राणा, सीमा कश्यप, सुधा पटवाल, उपमा अग्रवाल, संजय भट्ट, हिमांशु पुण्डिर, डा अंसारी, राजू मोर्य, दिपक सेलवान,समेत तमाम कार्यकर्ता अलग अलग विधानसभाओं में मौजूद रहे ।