May 16, 2022 11:01 am

खाकीवालों पर थी हिफाज़त की जिम्मेदारी, फ़र्ज़ भूल बन गए हवस के पुजारी, पढ़िये पुलिस, प्यार और बलात्कार, खाकी हो गई दागदार  

जयपुर: राजस्थान पुलिस ने एक बार फिर खाकी को शर्मसार किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रेमी के साथ घर से भागी एक ​दलित युवती ने पुलिस पर छेड़खानी और पुलिस चौकी में बलात्कार किए जाने का आरोप लगाया है। मामला सीकर जिले के धोद थाना क्षेत्र के सिंगरावट चौकी का है। कथित तौर पर 29 अगस्त को तड़के चौकी में युवती के साथ बलात्कार किया गया। आरोपी कोई और नहीं बल्कि खुद चौकी इंचार्ज सुभाष कुमार है। मामले में मानवाधिकार आयोग ने भी सीकर के पुलिस अधीक्षक से 15 सितंबर तक रिपोर्ट देने के लिए कहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, दलित युवती 12 अगस्त को घर से लापता हो गई थी। परिजनों ने धोद थाने इसकी रिपोर्ट दी। जाँच से यह बात सामने आई कि वह अपने प्रेमी के साथ श्रीगंगानगर में है। हेड कॉन्स्टेबल सुभाष कुमार दोनों को लाने के लिए गए थे। युवती का आरोप है कि रास्ते में सुभाष ने उसके प्रेमी को गाड़ी में आगे बिठा दिया और खुद उसके साथ पीछे बैठ गया। इस दौरान रास्तेभर उसने छेड़खानी की। युवती ने विरोध किया तो उसे पीटा भी गया। 29 अगस्त को तड़के लगभग साढ़े चार बजे सभी लोग चौकी पहुँचे। कथित तौर पर सुभाष ने बयान रिकॉर्ड करने के बहाने युवती के साथ चौकी में ही दुष्कर्म किया। बाद में उसे डरा-धमकाकर प्रेमी के साथ भेज दिया।

युवती ने जब यह बात अपने प्रेमी और परिवार को बताई तो धोद थाने में पंचायत हुई। फिर उसने पुलिस अधीक्षक के सामने परिवाद दे सुभाष पर छेड़छाड़ और दुष्कर्म का आरोप लगाया। मामले की जाँच DSP राजेश आर्य को सौंपी गई है। साथ ही आरोपित को चौकी से हटा दिया गया है।