May 21, 2022 11:59 pm

पूल में पतन : स्विमिंग पूल में सीनियर संग महिला कांस्टेबल ने अश्लील खेल में की हदें पार- वीडियो वायरल – महंगी पड़ी मस्ती, “काम कीड़ों ” पर निलंबन की मार

जयपुर: अजमेर मे जिला पुलिस के एक अधिकारी का अन्य जिले में तैनात एक महिला कांस्टेबल के साथ स्वीमिंग पूल में बना अश्लील वीडियो वायरल हुआ है। इसमें दोनों अश्लीलता की हदें पार करते नजर आ रहे हैं। इसमें दोनों के साथ महिला कांस्टेबल का 6 साल का बच्चा भी नजर आ रहा है। बुधवार को पुलिस महानिदेशक एम.एल. लाठर ने वीडियो में नजर आ रहे पुलिस उपअधीक्षक(सीओ) ब्यावर हीरालाल सैनी व महिला कांस्टेबल को निलंबित कर दिया है। दोनों के निलम्बन की कार्रवाई को वीडियो वायरल होने की घटना से जोड़कर देखा जा रहा है। प्रकरण में महिला कांस्टेबल के पति ने गत माह नागौर जिले के एक थानाधिकारी के नाम शिकायत भी दी थी। उसने मासूम बच्चे के सामने अश्लीलता फैलाने पर लैंगिक अपराधों से बालकों के संरक्षण अधिनियम में प्रकरण दर्जकर कड़ी कार्रवाई की मांग की। हालांकि अब शिकायतकर्ता पति का कहना है कि उनका इस मामले में राजीनामा हो गया।

एसपी ने निकाला मीटिंग से बाहर: वीडियो वायरल होने की घटना और खुद के निलम्बन आदेश जारी होने के बावजूद सीओ सैनी बुधवार दोपहर अजमेर में आयोजित क्राइम मिटिंग में शामिल हो गया। मीटिंग में उसे देखते ही पुलिस अधीक्षक जगदीश चंद्र शर्मा ने फटकार लगाई और बैठक से बाहर निकाल दिया। बैठक से पहले ही वृत्ताधिकारी सैनी और महिला कास्टेबल के निलम्बन के आदेश जारी हो चुके थे।

अश्लीलता की हदें पार :  वायरल वीडियो में ब्यावर वृत्ताधिकारी सैनी व महिला कांस्टेबल अश्लीलता की हदें पार करते नजर आ रहे हैं। वीडियो में महिला कांस्टेबल का बेटा भी है। उसकी मौजूदगी में ही स्वीमिंग पूल में महिला कांस्टेबल व वृत्ताधिकारी सैनी अश्लील हरकते नजर आ रहे हैं।

वाट्सएप स्टेट्स से हुआ वायरल : महिला कांस्टेबल के पति ने मामले में नागौर जिले के एक थानाधिकारी के नाम गत माह शिकायत दी थी। उसने शिकायत में बताया कि 13 जुलाई 2021 को पत्नी के वाट्सएप स्टेटस पर अश्लील वीडियो डाला हुआ था। इसमें वृत्ताधिकारी सैनी और शिकायतकर्ता की पत्नी ने 6 साल के बेटे की मौजूदगी में अश्लीलता की हदें पार कर दी। उसने आरोप लगाया कि वीडियो को सोशल मीडिया पर डालकर रिश्तेदार व परिचितों तक पहुंचा दिया।

अब ऐसा कोई मामला नहीं : इस संबंध में शिकायतकर्ता से बात की गई तो उसने ऐसा कोई मामला नहीं होना बताते हुए प्रकरण में राजीनामा होने की बात कही है। उसका कहना है कि यह वीडियो पुराना है। शिकायत दी थी लेकिन अब वह उसमें कोई कार्रवाई नहीं चाहता है।

 

शिकायतकर्ता ने रिपोर्ट जयपुर मुख्यालय पर ही पेश की है।  स्थानीय पुलिस का मामला नहीं है।

मोटाराम बेनीवालए सीओ कुचामनसिटी

वायरल वीडियो एडिट किया हुआ है। वीडियो में नजर आ रही महिला को मैं नहीं जानता हूं। निलम्बन की सूचना क्राइम मीटिंग के दौरान मिली तो लौट आया। प्रकरण की जांच चल रही है। मुझे शिकायत के संबंध में कोई जानकारी नहीं है।

हीरालाल सैनी, निलंबित सी