May 16, 2022 11:08 am

उत्तराखंड मे कोविड टीकों की कमी नहीं, लगवाने वालों की दरकार, कैसे होगा 31 दिसंबर तक शत प्रतिशत टिकाकरण का लक्ष्य पार ?

देहरादून: कोविड टीकाकरण अभियान में सभी को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य हासिल करने के लिए उत्तराखंड को हर रोज 61 हजार से ज्यादा वैक्सीन डोज लगानी होंगी। तभी 31 दिसंबर तक शत प्रतिशत आबादी को टीके लगाने का लक्ष्य पूरा हो पाएगा। प्रदेश में 80.50 लाख लोगों को कोविड वैक्सीन की पहली या दूसरी डोज लगानी बाकी है।  सरकार ने प्रदेश में दिसंबर तक शत प्रतिशत टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए सरकार और विभाग के पास 110 दिन का समय शेष बचा है। अब राज्य में वैक्सीन डोज की कोई कमी नहीं है। अब इंतजार सिर्फ टीके लगवाने वालों का है।

सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन की ओर से स्वास्थ्य विभाग के टीकाकरण आंकड़ों पर लक्ष्य के अनुसार विश्लेषण रिपोर्ट जारी की गई। फाउंडेशन के अनुसार 12 सितंबर तक राज्य में 70.09 लाख लोगों को पहली और 23.57 लाख लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी है। अब तक कुल 93.66 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की डोज लगाई गई है।

राज्य में वैक्सीन की कुल 1.61 करोड़ डोज दी जानी है

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार राज्य में कोविड वैक्सीन की जरूरत वाले 18 से 44 वर्ष के लोगों 49.34 लाख और 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों की संख्या 27.95 लाख से अधिक है। इसके अलावा राज्य में रजिस्टर्ड हेल्थ केयर वर्कर्स की संख्या 1,28,002 और फ्रंट लाइन वर्कर्स की संख्या 1,93,216 है। यानी कुल 80,50,684 लोगों का टीकाकरण किया जाना है। हर व्यक्ति को दो डोज के हिसाब में राज्य में वैक्सीन की कुल 1.61 करोड़ डोज दी जानी हैं।

एसडीसी फाउंडेशन के अध्यक्ष अनूप नौटियाल ने बताया कि फाउंडेशन हर 10वें दिन वैक्सीनेशन मीटर जारी कर रहा है। पहले हर रोज का टारगेट काफी तेजी से कम हो रहा था। इससे लक्ष्य समय पर पूरा होने की उम्मीद भी बढ़ रही थी। पिछले 10 दिनों में प्रतिदिन के लक्ष्य में कुछ कमी तो आई है, लेकिन वह पहले के मुकाबले कम है। अब लक्ष्य हासिल करने के लिए 110 दिन का समय शेष है। प्रतिदिन 61222 लोगों को वैक्सीन लगानी होगी।

टीकाकरण में हिमाचल से पीछे उत्तराखंड

कोविड टीकाकरण में उत्तराखंड पड़ोसी राज्य हिमाचल से पीछे है। हिमाचल में 100 प्रतिशत आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लगी चुकी है। प्रदेश सरकार वैक्सीन लगाने पर विशेष फोकस है। इसके लिए 17 सितंबर को वैक्सीनेशन का महा अभियान चलाया जाएगा।