May 16, 2022 6:28 pm

केदारनाथ-बदरीनाथ सहित चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की सीमा बढ़वाने के लिए कोर्ट जाएगी उत्तराखंड सरकार  -सीएम धामी

देहरादून: सरकार चारधाम आने वाले यात्रियों की संख्या को बढ़ाने के लिए हाईकोर्ट से अनुरोध करेगी। वर्तमान तय सीमा की वजह से पर्याप्त यात्रियों को धामों में दर्शन का मौका नहीं मिल पा रहा है। रविवार को कैंट रोड स्थित सीएम आवास में मीडिया से बातचीत में सीएम ने कहा कि चारधाम यात्रा की समीक्षा में यह बात सामने आई है। सरकार ने यात्रियों की सुविधा के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं की है।

लेकिन देखा जा रहा है कि सुबह 11 बजे तक सभी धाम श्रद्धालुओं से खाली हो जा रहे हैं। जबकि इसके बाद भी दर्शन के लिए पर्याप्त समय रहता है। सीएम ने कहा कि चारधाम में अधिक लोग दर्शन करना चाहते हैं। इसके लिए हाईकोर्ट से अनुरोध किया जाएगा कि श्रद्धालुओं की संख्या को संशोधित कर दिया जाए। इससे जहां श्रद्धालुओं को सुविधा मिलेगी। वहीं स्थानीय कारोबारियों, पर्यटन-परिवहन व्यवसायियों को भी राहत मिलेगी।

मालूम हो कि हाईकोर्ट ने चारों धाम और हेमकुंड साहिब लोकपाल में प्रतिदिन आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या तय की गई है। इस तय सीमा के अनुसार ही देवस्थानम बोर्ड ई पास जारी कर रहा है। पहले दिन से ही देखा जा रहा है ईपास लेने के बावजूद काफी श्रद्धालु नहीं आ पा रहे हैं। बीते रोज सरकार ने डीएम को अपने स्तर से इस स्थिति में बाकी श्रद्धालुओं को धाम के दर्शन के लिए भेजने का अधिकार दे दिया है।

धाम                अनुमति         18 सितंबर   26 सितंबर
बदरीनाथ          1000             335             750
केदारनाथ         800               84               639
गंगोत्री              600              150             461
यमुनोत्री            400              152             400
हेमकुंड साहिब  1000            120              604