500 और 2000 के नोटों से हटाई जाए बापू की तस्वीर, कांग्रेसी विधायक की प्रधानमंत्री से मांग, ये बताया कारण…

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

कोटा / राजस्थान: कांग्रेसी विधायक भारत सिंह कुंदनपुर ने प्रधानमंत्री मोदी से एक अनोखी अपील की है। दरअसल उन्होंने पीएम मोदी से 500 और 2000 के नोटों से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की फोटो को हटाने की मांग की है। इसके पीछे उनका तर्क यह है कि इन नोटों का इस्तेमाल भष्ट्राचार और रिश्वतखोरी के लिए किया जाता है और इसे उन्होंने महात्मा गांधी जी का अपमान बताया है।

राज्य में हो रहे भ्रष्टाचार को किया हाइलाइट्स

महत्वपूर्ण बात ये है कि कांग्रेस के विधायक राज्य में अपनी ही पार्टी की सरकार में हो रहे भ्रष्टाचार के मामलों को हाइलाइट्स कर रहे हैं। विधायक के मुताबिक जनवरी 2021 से 31 दिसंबर 2020 तक भ्रष्टाचार के 616 मामले दर्ज किए गए हैं यानी औसतन हर दिन दो भ्रष्टाचार के मामले हुए हैं। ऐसे में उन्होंने गांधी जयंती के मौके पर पीएम मोदी को खत लिखा और बड़े मूल्य के इन नोटों से महात्मा गांधी की फोटो हटाने की अपील की।

कहा – 200 रुपये तक नोटों में रहे गांधी जी फोटो

भारत सिंह कुंदनपुर सांगोद से विधायक हैं। उन्होंने कहा है कि गांधी जी की फोटो  5, 10, 20, 50, 100 और 200 के नोटों में होनी चाहिए। उनके मुताबिक इन नोटों का अधिक प्रयोग गरीब करते हैं और गांधी जी ने गरीब और बेसहारा लोगों के लिए काम किया है। पीएम मोदी को अपने खत में उन्होंने लिखा, ‘मेरी सलाह है कि गांधी की फोटो का इस्तेमाल 500 और 2000 रुपए के नोटों में ना हो। अशोक चक्र भी उद्देश्य की पूर्ती प्रभावी तरीके से कर सकता है।”

गांधी जी को बताया सत्य का प्रतीक

उनके मुताबिक पिछले साढ़े सात दशक में देश में भ्रष्टाचार ने हर जगह अपनी जड़ों को मजबूत किया है। उन्होंने कहा, ”गांधी सत्य के प्रतीक हैं और उनकी तस्वीर 500 और 2000 के नोटों पर छपी है, जिनका इस्तेमाल आमतौर पर भ्रष्टाचार और रिश्वत लेनदेन के लिए होता है।”