कांग्रेस मे यशपाल के आने से सरिता हो गई उदास ! बोली – जिस पार्टी मे सत्ता की मलाई दिखी, यशपाल चले गए उसके पास, दी कांग्रेस छोड़ने की धमकी…

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

नैनीताल: कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और नैनीताल विधायक संजीव आर्य के कांग्रेस में शामिल होने के बाद कांग्रेस के भीतर भी हलचल बढ़ गई है। पूर्व विधायक सरिता आर्या ने टिकट नहीं मिलने की स्थिति में पार्टी छोडऩे का एलान किया है। महिला कांग्रेस पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक नैनीतला सरिता आर्य ने यशपाल आर्य पर तीखा तंज किया है। उन्होंने कहा कि यशपाल आर्य का पार्टी में स्वागत है। पर उन्हें जहां सत्ता की मलाई दिख रही है वह वहीं चले जा रहे हैं। कांग्रेस ने उन्हें प्रदेश अध्यक्ष, मंत्री और विधानसभा अध्यक्ष बनाया। पर मुश्किल समय पर वह कांग्रेस पार्टी छोड़कर सत्ता की मलाई खाने भाजपा के पाले में चले गए। पर अब उन्हें महसूस हो गया है कि कांग्रेस सत्ता में आने वाली है तो वह फिर मलाई खाने यहां आ गए हैं। यदि नैनीताल से संजीव आर्य को टिकट दिया गया तो इसका विरोध किया जाएगा। हम पांच सालों से झक नहीं मार रहे।

सोमवार को नैनीताल क्लब में पूर्व विधायक सरिता आर्य पत्रकारों से रूबरू हुई। उन्होंने कहा कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और विधायक संजीव आर्य के कांग्रेस में शामिल होने का समाचार प्राप्त हुआ है। घर वापसी से कांग्रेस की स्थिति सुदृढ़ होगी। फिलहाल शीर्ष नेतृत्व द्वारा दोनों के सामने वापसी की क्या शर्ते रखी गई है यह स्पष्टï नहीं हो पाया है मगर नैनीताल सीट से टिकट को लेकर वह कोई समझौता नहीं करेंगी। बीते साढ़े चार वर्षों में उन्होंने नैनीताल सीट को मेहनत से सींचा है। पार्टी का प्रतिनिधित्व कर वह चुनाव की तैयारी कर रही हैं। यदि शीर्ष नेतृत्व द्वारा उन्हें टिकट नहीं दिया गया तो वह पार्टी छोड़ देंगी।

परिवार के सदस्यों की हो गई घर वापसी 

कांग्रसे जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल ने दोनों नेताओं की घर वापसी पर हर्ष जताया है। कहा कि पांच वर्ष पूर्व भाजपा के बरगलाने से परिवार से दूर हुए सदस्यों ने घर वापसी कर ली है। आर्य कांग्रेस के पुराने नेता हैैं। जिसका पार्टी को बड़ा लाभ मिलेगा। कांग्रेस की नाराजगी भाजपा और उसकी नीतियों से है, न कि किसी कार्यकर्ता व व्यक्ति विशेष से। कहा कि इस बार प्रदेश में यकीनन कांग्रेस बड़े अंतर से सरकार बनाएगी।