धामी सरकार के 100 दिन पूरे, सबसे कम उम्र के सीएम ने चमकाया नाम, सूबे के लिए धामी ने किये ये काम, प्रधानमंत्री भी कर चुके सम्मान…

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी संभालते हुए सीएम पुष्कर धामी को आज 100 दिन हो गये हैं. इन 100 दिनों में सीएम धामी ने अपनी सरकार की बदली हुई छवि जनता के बीच पेश करने की कोशिश की. काफी हद तक उन्हें सफलता भी मिली. सत्तापक्ष जहां 100 दिनों के सीएम धामी के कार्यकाल को उपलब्धि भरा बता रहा है, तो वहीं विपक्ष निराशाजनक.

सीएम धामी ने किए कई बड़े बदलाव

उत्तराखंड में नेतृत्व में बदलाव करते हुए बीजेपी ने युवा चेहरे पुष्कर धामी को उत्तराखंड की कमान सौंपी. सत्ता की कमान संभालने के साथ ही सीएम धामी ने ताबड़तोड़ बैटिंग भी शुरू कर दी. पहले ही झटके में नौकरशाही में बदलाव करते हुए मुख्य सचिव को हटा दिया. इसके बाद शासन स्तर पर भी बड़ा बदलाव किया गया. कई अधिकारियों की जिम्मेदारियां बदली गईं, कुछ के पर कुतरे गए तो कुछ की जिम्मेदारियां बढ़ाई गईं. सीएम धामी ने खुद के विभागों को हल्का करते हुए दूसरे मंत्रियों को जिम्मेदारियां सौंपी. हालांकि, 100 दिनों का वक्त कोई बहुत ज्यादा वक्त नहीं होता है लेकिन इसके बावजूद सीएम धामी ने जनहित से जुड़े कई फैसले लिए.

24000 हजार रिक्त पदों पर भर्ती का किया ऐलान 

मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने सबको साथ लेकर चलने की कोशिश की. सत्ता की कमान संभालने के साथ ही 24000 हज़ार रिक्त पदों पर भर्ती का ऐलान किया. भर्ती प्रक्रिया शुरू हुई. कोविड से प्रभावित पर्यटन क्षेत्र के लिए 200 करोड़ का पैकेज जारी किया. चिकित्सा क्षेत्र के लिए 205 करोड़ का पैकेज दिया. महिला सशक्तिकरण की दिशा में भी मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना की शुरुआत की.

सभी घोषणाओं को धरातल पर उतारने की छेड़ी मुहिम 

भाजपा सरकार के इस कार्यकाल में स्वास्थ्य विभाग को अलग से मंत्री मिला. प्रदेश के युवाओं को भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन शुल्क में मार्च 2022 तक छूट दी गयी. देवस्थानम बोर्ड पर चल रही तीर्थपुरोहितों की नाराजगी को शांत करने के लिए उच्च स्तरीय समिति बनाई. राज्य के मेडिकल कॉलेजों में स्टाइपेंड को बढ़ाकर 17 हज़ार किया गया. मुख्यमंत्री ने कहा कि जो भी घोषणा की जा रही है, उनको धरातल पर उतारा जाएगा.

पीएम नरेंद्र मोदी ने की तारीफ

सीएम पुष्कर धामी को 2022 के चुनाव में जाने से पहले सरकार चलाने के लिए बहुत अधिक वक्त न मिला हो, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी तारीफ कर उन्हें युवा ऊर्जावान और उत्साहित बताते हुए अपना मित्र तक बताया. वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उन्हें 20-20 का धाकड़ बल्लेबाज़ बताया. कैबिनेट मंत्री बिशन सिंह चुफाल कहते हैं कि सीएम धामी के ऊर्जावान नेतृत्व में सरकार ने काफी बेहतर काम किया है.

मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के बड़े फैसले
प्रदेश की बागडोर संभालते अफसरशाही में बदलाव, सीएस बदले, शासन स्तर पर बड़ा फ़ेरबदल.
भू कानून की उठ रही मांग के मद्देनजर अध्ययन के लिए समिति का गठन किया.
प्रदेश में डेमोग्राफिक परिवर्तन के मद्देनजर सभी जिलों में जांच.
देवस्थानम बोर्ड के मामले को सुलझाने के लिए हाई पावर कमेटी का गठन.
प्रदेश में 24 हज़ार पदों पर भर्ती प्रक्रिया.
कोविड के चलते प्रभावित परीक्षा के चलते आयु सीमा में 1 वर्ष छूट.
बेरोजगारों से भर्ती परीक्षा में आवेदन शुल्क पर छूट, मार्च 2022 तक कोई अवेदन शुल्क नहीं.
मलिन बस्तियों को अतिक्रमण की कार्रवाई से बचाने के लिए राहत की समय सीमा बढाई.