आप प्रभारी का बयान : 30 नवंबर तक उत्तराखंड मे 70 उम्मीदवारों के नामों का होगा एलान

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

हरिद्वार: आज हरिद्वार में आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने एक चैनल के निजी प्रोग्राम में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों को लेकर बड़ी घोषणा की। उन्होंने कहा,आम आदमी पार्टी प्रदेश में दोनों पॉलिटिकल पार्टी से पहले 30 नवंबर तक अपने सारे उम्मीदवारों की घोषणा कर देंगे। आप प्रभारी ने कहा,आम आदमी पार्टी लगातार जनता के बीच है और अपने मुद्दों को लेकर जनता के बीच जा रही है और जनता का भरपूर समर्थन भी आप पार्टी को मिल रहा। उन्होंने ये बात हरिद्वार में एक निजी टीवी चैनल की डिबेट के दौरान कही। उन्होंने कहा कि, आप पार्टी की सभी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं ,और 30 नवंबर तक पार्टी सभी प्रत्याशियों के नाम की लिस्ट जारी कर देगी।

इसके अलावा उन्होंने बताया कि, कांग्रेस बीजेपी से अब लोगों का मन हट चुका है ,और लोग अब तीसरे विकल्प के रुप में आप पार्टी से बड़ी उम्मीद लगाए हुए हैं ,जिस पर आप पार्टी हर तरह खरा उतरेगी। उन्होंने कहा कि, हमारी पार्टी में चेहरों की कोई कमी नहीं है। सभी विधानसभाओं में आम चेहरे ही जनता के बीच से  चुनावी चेहरे होंगे। इसके अलावा उन्होने कहा कि, आप पार्टी का मानना है कि, जिस के नाम पर चुनाव लडा जाना है ,उस नाम को पहले ही उजागर कर देना चाहिए, और इसी कारण उनकी पार्टी ने कर्नल कोठियाल का नाम सीएम प्रत्याशी के तौर पर घोषित किया ताकि जनता ये जान सके कि उनका भावी मुख्यमंत्री प्रदेश हित के लिए क्या सोच रखता है और अब जल्द ही विधानसभा उम्मीदवारों के नामों का भी एलान कर दिया जाएगा ताकि जनता अपने उम्मीदवार और उम्मीदवार जनता को अच्छे से समझ सके।

उन्होंने आगे कहा ,आप पार्टी की सोच कांग्रेस और बीजेपी की तरह नहीं है। आप पार्टी जो कहती है वो करती है। यहां विधानसभा प्रत्याशी के नाम का एलान करने का मतलब जनता उस उम्मीदवार को जनता पहचान सके और वो उम्मीदवार पहले ही जनता के बीच जाकर पार्टी और अपने विचार रख सके। उन्होंने दोनों ही दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि, दोनों ही दल आखिरी तक  दूसरे के उम्मीदवार का इंतजार करते हैं और आखिरी समय पर अपने प्रत्याशी उतारते जबकि आम आदमी पार्टी ऐसा नहीं करेगी । उन्होंने कहा, 2016 से लेकर अब तक प्रदेश की राजनीति में जो दल बदल  का खेल अब तक चल रहा है जनता वो खेल अब समझ चुकी है और वो बीजेपी कांग्रेस के झांसे में आने वाली नहीं है।