सोनिया की अपने नेताओं को फटकार- “मैं ही हूँ अध्यक्ष” मीडिया के जरिये मुझसे ये सवाल न पूछें बार-बार

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी में स्थायी अध्यक्ष की मांग कर रहे जी-23 नेताओं को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के दौरान सोनिया गांधी ने फटकार लगाई है। उन्होंने कहा है कि फिलहाल मैं ही पार्टी की स्थायी अध्यक्ष हूं। इशारों में उन्होंने कहा कि किसी को भी मीडिया के माध्यम से मुझ तक बात पहुंचाने की जरूरत नहीं है। बेहतर होगा कि खुद मझसे बात करें। उन्होंने बैठक में संदेश दिया कि आपसी मनमुटाव को दूर करेंगे तभी आगामी विधानसभा चुनाव में हम बेहतर परिणाम दे सकेंगे।


बदलने लगे जी-23 नेताओं के सुर
सोनिया गांधी की फटकार के बाद जी-23 नेताओं के सुर भी बदलने लगे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद का कहना है कि उन्हें सोनिया गांधी पर पूरा भरोसा है। उनके नेतृत्व पर कोई सवाल नहीं उठा सकता। जबकि, इससे पहले गुलाब नबी आजाद और कपिल सिब्बल उन नेताओं में शामिल थे, जिन्होंने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक बुलाने और स्थायी अध्यक्ष चुनने की मांग की थी। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने तो यहां तक कह दिया था कि पार्टी का कोई अध्यक्ष नहीं हैं। फैसले कौन ले रहा है, मालूम नहीं है।

सितंबर 2022 में चुना जा सकता है नया अध्यक्ष
सूत्रों की मानें तो पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव तक सोनिया गांधी ही अध्यक्ष पद पर बनी रहेंगी। पार्टी में नए अध्यक्ष के चुनाव के लिए सितंबर, 2022 में चुनाव होने की संभावना है। कार्यसमिति की इस बैठक में 52 कांग्रेसी नेता प्रतिभाग कर रहे हैं। इस दौरान मौजूदा राजनीतिक स्थिति, विधानसभा चुनावों को लेकर चर्चा हो रही है।