बिहार मे महागठबंधन टूटा: 2024 में सभी 40 सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

पटना: बिहार में महागठबंधन टूट गया है. यहां कांग्रेस ने 2024 लोकसभा चुनाव में सभी 40 सीटों पर अकेले लड़ने का ऐलान किया है. कांग्रेस बिहार प्रभारी भक्त चरण दास ने ये ऐलान किया. इतना ही नहीं उन्होंने महागठबंधन में टूट के लिए लालू यादव की पार्टी आरजेडी को जिम्मेदार ठहराया. बिहार में पिछले साल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस, राजद और लेफ्ट पार्टियों ने मिलकर महागठबंधन बनाया था.

दरअसल, राजद और कांग्रेस में पिछले कुछ दिनों से सब कुछ ठीक नहीं चल रहा था. वजह है राज्य की दो विधानसभा सीटों पर हो रहा उपचुनाव. दरअसल, तारापुर और कुशेश्वरस्थान विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है. ऐसे में आरजेडी ने इन सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान किया था. इसके बाद कांग्रेस ने भी दोनों सीटों से अपने उम्मीदवारों को उतारने का ऐलान कर दिया.

कांग्रेस ने साधा आरजेडी पर निशाना

इसके बाद बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने आरजेडी पर निशाना साधा था. उन्होंने आरोप लगाया था कि भाजपा से  समझौते के कारण आरजेडी ने कांग्रेस का साथ छोड़ा है और उपचुनाव के बाद राजद और भाजपा हाथ मिला सकते हैं. इस पर आरजेडी ने कहा था कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष को बिहार की राजनीति की जमीनी समझ नहीं है.

एनडीए में जेडीयू को मिलीं दोनों सीटें

बिहार की दोनों ही सीटों के उपचुनाव में जेडीयू को बीजेपी और पशुपति पारस की पार्टी राष्‍ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी का समर्थन प्राप्‍त है. जबकि महागठबंधन में आरजेडी और कांग्रेस दोनों ही चुनाव लड़ रही है. लोकसभा और विधानसभा चुनाव में दोनों सीटों पर जेडीयू की जीत हुई थी.