अब माचिस लगाएगी महंगाई में आग- दिसंबर से दोगुनी कीमत में मिलेगी डिबिया

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

न्यूज़ डेस्क: पेट्राल, डीजल, रसोई गैस, प्याज, सरसों तेल के बाद अब आम आदमी को महंगाई का एक और तगड़ा झटका लगने वाला है। जी हां, रोज काम में आने वाली सामान्य चीज माचिस की कीमत अब झटका देने वाली है। अब 14 साल के बाद माचिस की डिब्बी की कीमत बढ़ने जा ही हैं।

अब माचिस की कीमत (Matchstick Box price) 1 रुपये महंगी होने जा रही है। अब अगले महीने से माचिस 2 रुपये में मिलेगी। देश के पांच प्रमुख माचिस उद्योग निकायों के प्रतिनिधियों ने सर्वसम्मति से 1 दिसंबर से माचिस की कीमत 1 रुपये से बढ़ाकर 2 रुपये करने का फैसला किया है। आपको बता दें कि आखिरी बार माचिस की कीमत में संशोधन 2007 में हुआ था। उस वक्त इसकी कीमत 50 पैसे से बढ़ाकर 1 रुपये की गई थी। माचिस की कीमत में वृद्धि का यह फैसला शिवकाशी में ऑल इंडिया चैंबर ऑफ मैचेस की बैठक में लिया गया।


माचिस की कीमत (Matchstick Box) बढ़ाने का कारण उद्योग के प्रतिनिधियों ने कच्चे माल की कीमतों में हाल ही में हुई वृद्धि को बताया है। निर्माताओं ने कहा है कि माचिस बनाने के लिए 14 कच्चे माल की जरूरत होती है। एक किलोग्राम लाल फास्फोरस 425 रुपये से बढ़कर 810 रुपये हो गया है। इसी तरह मोम 58 रुपये से 80 रुपये, बाहरी बॉक्स बोर्ड 36 रुपये से 55 रुपये और भीतरी बॉक्स बोर्ड 32 रुपये से 58 रुपये तक पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि कागज, स्प्लिंट्स, पोटेशियम क्लोरेट और सल्फर की कीमत में भी 10 अक्टूबर से वृद्धि हुई है। इसके साथ ही डीजल की बढ़ती कीमत ने भी असर डाला है। माचिस उद्योग (Matchstick Industry) से पूरे तमिलनाडु में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लगभग चार लाख लोग जुड़े हैं। प्रत्यक्ष कर्मचारियों में 90 फीसदी से अधिक महिलाएं हैं।