खुद को बताती थी सिविल जज, लोगों को बनाती थी ठगी का शिकार, पुलिस ने किया महिला को पति और ड्राइवर के साथ गिरफ्तार

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

बठिंडा / पंजाब:  पुलिस ने एक ऐसी महिला को गिरफ्तार किया है, जो खुद को ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट फर्स्ट क्लास सिविल जज बताकर लोगों से धोखाधड़ी करती थी। इतना ही नहीं लोगों में अपना रौब दिखाने के लिए अपने पति की कार पर जिला सेशन कोर्ट जज की प्लेट भी लगा रखी थी, और नकली आईडी कार्ड भी बना रखा था। फिलहाल पुलिस ने आरोपी महिला जसवीर कौर, उसके पति कुलवीर सिंह निवासी गांव कल्याण सुक्खा व उसके ड्राइवर प्रगट सिंह निवासी गांव रामणवास व एक अज्ञात व्यक्ति पर विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है, ताकि पता चल सके कि उक्त लोगों ने अब तक कितने लोगों के साथ धोखाधड़ी की और नकली जज बनकर वह क्या करती थी।

थाना नथाना के एएसआई जसवीर सिंह के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली कि गांव कल्याण सुक्खा की रहने वाली जसवीर कौर ने अपने पति कुलवीर सिंह, ड्राइवर प्रगट सिंह व एक अज्ञात व्यक्ति के साथ मिलकर एक गिरोह बना रखा है। आरोपी जसवीर कौर अपने आप को जज बताती और अपने पति की ब्रेजा कार (पीबी-03एके-0063) पर लाल रंग की प्लेट लगा रखी है, जिस पर जिला सेशन कोर्ट लिखा हुआ है। उसकी यह गाड़ी आरोपी प्रगट सिंह चलाता है। जसवीर कौर ने ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट फर्स्ट क्लास सिविल जज का नकली आईडी कार्ड भी बना रखा है। यह लोग भोले-भाले लोगों को अपने झांसे में लेकर सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करते हैं।

सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया है, जबकि आरोपियों से कार भी बरामद की गई है। मामले के जांच अधिकारी एएसआई जसवीर सिंह ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। अब तक की गई जांच में सामने आया है कि आरोपी 24 से ज्यादा लोगों से नौकरी दिलाने का झांसा देकर लाखों रुपये की ठगी कर चुके है। फिलहाल आरोपियों को अदालत में पेश कर उनका पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा, ताकि पूछताछ के बाद मामले में ओर भी खुलासे किए जा सके।